अवश्य उपयोग करें ये खास तेल हेल्दी स्किन पाने के लिए

वर्षों से आज तक तेल हमारी स्किन के लिए अधिकतर मददगार ही साबित हुए हैं, तेल स्किन में चमक बरकरार रखते हैं और स्वस्थ रखने में भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

जोजोबा और कैंलेंडुला के सत्व वाले तेल आपकी त्वचा पर न केवल चमत्कारी असर दिखाते हैं बल्कि इसे पूरी स्वस्थ भी बनाए रखते हैं। आइए बताते हैं इन तेलों का उपयोग कैसे करें।

– लैवेंडर का तेल सुकून पहुंचाने के साथ ही बढ़िया नींद लाने में भी बहुत कारगर होता है। यह जीवाणुरोधी गुणों वाला होने के कारण बालों से संबंधित कई समस्याओं से हमें निजात दिलाता है। यह रूसी को खत्म कर बालों का पूरी तरह झड़ना रोकता है।

– जोजोबा तेल त्वचा को ज्यादा तेलीय और रूखा होने से बचाता है। जीवाणु रोधी गुण होने के कारण यह त्वचा की जलन और खुजली को भी दूर करता है। यह त्वचा में नमी बरकरार रखता है, जिससे खुजली और रूखापन नहीं होता। यह एक्जिमा को रोकने में मददगार साबित होता है।

– कैलेंडुला का तेल त्वचा पर प्रभावी रूप से असर कर इसे स्वस्थ रखता है। यह त्वचा में चमक भी लाता है। यह आंखों की रोशनी बढ़ता है और सूजन भी कम करता है।

– कैमोमाइल तेल त्वचा को कोमल और स्वस्थ रखता है। यह एक्जिमा, घाव, अल्सर, जल जाने पर, त्वचा में जलन या खुजली होने प्राकृतिक उपचार के तौर पर इस्तेमाल में लाया जा सकता है। इसे निपल की त्वचा फट जाने पर या बच्चों को डायपर पहनने के कारण हो जाने वाले रैशेज या दोनों पर भी लगाया जा सकता है।

– यूकेलिप्टस (नीलगिरी) का तेल आपको बीमार कर देने वाले सूक्ष्म-जीवाणुओं और शरीर से हानिकारक पदार्थो को हटाने में पूरी तरह कारगर है। केलिप्टस का तेल अस्थमा, ब्रोांकाइटिस, निमोनिया, तपेदिक जैसी बीमारियों के इलाज में भी बहुत प्रभावकारी असर दिखाता है। यूकेलिप्टस के तेल में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, इसलिए यह जल जाने, कट जाने, घाव, खरोंच होने पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें-

नहीं जानते होंगे आप अजवायन उपयोग करने के ये फायदे