कई स्वास्थ्य समस्याओं से पूरी तरह मुक्त कर देता है सरसों का तेल

जैसा की हम सब जानते हैं कि हमारे घरों में खाना बनाने के लिए सरसों के तेल का उपयोग किया जाता हैं। सरसों के तेल में प्यूफा व म्यूफा की बहुत ही अच्छी गुणवत्ता पाई जाती हैं। सरसों के तेल में ओमेगा 6 – 3 सही मिश्रण में उपस्थित रहता हैं। तेल खाने के साथ-साथ हमारे शरीर की त्वचा, बालों के लिए बहुत अधिक गुणकारी हैं। सरसों के तेल की मालिश करने से हम कई प्रकार की परेशानियों से पूरी तरह मुक्त हो सकते हैं। यह हमारी त्वचा में होने वाले संक्रमण और रेशेज से छुटकारा दिलाने में हमारी बहुत मदद करता हैं। क्योंकि इस तेल में एंटीफंगल व एंटीबैक्टीरियल मौजूद रहते हैं। जो हमारे शरीर के लिए बेहद उपयोगी व लाभकारी होते हैं। आइए आज आपको बताते है सरसों के तेल के गुणकारी फायदों के बारें में:-

अगर हमारे दातों में दर्द, पायरिया हो जाता हैं, तो सरसों के तेल में नमक मिलाकर मंजन करना चाहिए। जो हमारे दातों के दर्द व पायरिया में उपयोगी साबित हो सकता हैं।

सर्दी लगने या जुकाम होने पर गर्म सरसों के तेल की छाती व पीठ पर मालिश करें तथा नाक के छिद्रों में लगाये जिससे तुरंत ही सर्दी व जुकाम से छुटकारा मिलेगा।

अगर आपके कान में दर्द हो रहा हैं या कान में कोई कीड़ा घुस जाये तो सरसों के तेल को थोड़ा गुनगुना करें और उसमें 3-4 लहसुन की कलियां डालें और फिर उसे अपने कान में 2-3 बूंदे डाले। इससे आपके दर्द में आपको आराम मिलेगा और कोई कीड़ा होगा तो तेल के साथ बाहर आ जायेगा और हमारे कान का मैल भी तेल से फूलकर बाहर आ जायेगा। चेहरे को सुंदर व चमकदार बनाने के लिए दूध में सरसों को गलने तक उबाल लें। फिर उसमें थोड़ा गुलाब जल मिला कर प्रतिदिन अपने चेहरे पर लगाये। चेहरे पर चमक व सुंदरता आयेगी।

सरसों तेल की मालिश से शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है। त्वचा की कोशिकाओं की तेजी से हीलिंग होती है। इस कारण ऐंटिफंगल, ऐंटिबैक्टीरियल और ऐंटिइंफ्लामेट्री…इन सभी तरह की समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए सरसों का तेल एक रामबाण औषधि है।

यह भी पढ़ें: नई-नई सेक्रेटरी ने अपने बॉस से पूछा- आपकी बीवी मुझे इतनी शक भरी नजरों से क्यों देखती है?