Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2019ः नेशनल अवार्ड मिलना और फोटो छपना ही काफी नही, लक्ष्य लक्ष्य बनाएं – नरेन्द्र मोदी

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2019ः नेशनल अवार्ड मिलना और फोटो छपना ही काफी नही, लक्ष्य लक्ष्य बनाएं – नरेन्द्र मोदी

शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी ने वीरता पुरस्कार से सम्मानित बच्चों से मुलाकात की। बच्चों से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि पुरस्कार मिलना और अखबार में फोटों छपना ही नही, जि़दगी बहुत बड़ी है। हमारे पास दो रास्ते होते है पहला जिसमें हम अपने पांव जमीन पर नही टिकनें देते, तो दूसरा अपने जीवन का एक लक्ष्य बनाते है। असल मैं जमीन पर पैर रखना ही सबकुछ है मेरा आपसे  अनुरोध है कि आप दूसरों की आदतों को अपने अदंर न रखे। अपने जीवन का लक्ष्य बनाएं की मुझे बहुत कुछ करना है, हमें अपने कर्तव्यों पर बल देना चाहिए न कि अधिकारों पर।

बच्चों को आगे सबोंधित करते हुए उन्होंने कहा कि आप सभी बच्चों दूसरें बच्चों के लिए प्रेरणा है हमारे देश के बच्चों जो काम करते है उनकी तरगें नीचे तक जाती है। बच्चो की बहादुरी की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बहादुरी के लिए साहस की जरुरत होती है। साहस के बिना जीवन संभव नही है। मैं आपकी बहादुरी की कहानी अपने सोशल मीडिया पर शेयर करुंगा और आपकी फोटों भी साथ में लगाऊगां। आप जैसे लोग अच्छे काम करोगे तो बहुत लोगों को प्रेरणा मिलेगी।

Loading...

राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए 12 राज्यों में से 22 बच्चों का चयन किया गया था। जिनमें 12 लड़के और 10 लड़किया शामिल थी। राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार 2019 की घोषणा 21 जनवरी को की गई थी। वीरता पुरस्कार एक बच्चों को मरणोंपरात दिया जाएगा । केरल के 15 साल के आदित्य को भारत अवार्ड दिया जाएगा। आदित्य ने 40 लोगों से भरी बस को बचाया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *