कुश्ती में राष्ट्रीय स्वर्ण पदक विजेता की सैनिटाइजर पीने से मौत, जेल में था बंद

हिमाचल प्रदेश स्थित नालागढ़ से एक कुश्ती पहलवान की सैनिटाइजर पीने से मौत हो गई हैं। राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतने वाले हवालाती अजय ठाकुर उर्फ अज्जू की जिंदगी काफी उतार-चढ़ाव भरी रही। सेना में तीन साल सूबेदार के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके अज्जू ने नौकरी में मन ना लगने पर नौकरी छोड़ दी थी। जिसके बाद उसने दोस्त वीके राणा के साथ मिलकर सैनी माजरा में ‘बजरंग अखाड़ा’ खोला और वहां पहलवानी सिखाना शुरू किया।

इस समय भी उनके अखाड़े में करीब दो दर्जन युवा ट्रेनिंग ले रहे हैं। करीब 11 माह पूर्व पंचकूला में हुई डकैती में क्राइम ब्रांच ने घटना के आठ माह बाद शक की बिनाह पर अज्जू को घर से गिरफ्तार किया था। पिछले तीन माह से जेल में बंद अज्जू गहरे तनाव में चला गया। वह दो दिन से जेल में सैनिटाइजर पी रहा था। ऐसे में उसकी हालत बिगड़ने लगी, जिसके बाद उसे नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान अज्जू की अस्पताल में ही मौत हो गई।

मंगलवार मजिस्ट्रेट के समक्ष हुई वीडियोग्राफी में डॉक्टरों के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम कराया। अज्जू के साथी हवालाती ने जानकारी दी कि उसने कैंटीन से सैनिटाइजर की दो बोतलें हाथ धोने की कहकर खरीदी थीं। अजय के दोस्तों जगतराम, लखविंदर, बंटी और वीके राणा ने बताया कि मृतक के एक बेटा और बेटी हैं। हेड कांस्टेबल बलजीत सिंह के अनुसार मृतक के पिता बलवंत सिंह व दोनों चाचा ने उसकी मौत पर कोई संशय जताए बिना इसे बीमारी बताया हैं।

यह भी पढ़े: चीन पर भड़के जापानी पीएम सुगा, कहा-चीनी हठधर्मिता का मुकाबला करना जरुरी
यह भी पढ़े: अगले हफ्ते भारत आएंगे अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ, चीन की हरकतों पर होगी चर्चा