नेचुरल टूथपेस्ट है अंगूर

अंगूर के बीजों की सहायता से हमारे दांतों को सड़ने से रोका जा सकता है। अंगूर में पाया जाने वाला तत्व दांतों को सुरक्षित रखने वाले ऊतकों को काफी मजबूती प्रदान करता है और दांतो को सड़ने से बचाता है । यह तत्व दांत के ऊपरी सतह पर चमक कायम करने वाली परत के ऊतकों को मजबूती देने में भी सहायक है जिन्हे डेंटिन बोला जाता हैं। डेंटिन बने रहने से दांतों का अपक्षय नहीं होता।

डेटिन तत्व दांतों की भराई में इस्तेमाल किए जाने वाले रेजिन को मजबूत बनाता है जिससे दांत काफी मज़बूत रहते है और दांतों का नुकसान नहीं होता। दांतों में खोखला होने पर भी रेजिन की फिलिंग की जाती है। यह हमारे दांत के रंग का एक मिश्रण होता है जिसको प्लास्टिक और शीशा के मिश्रण से तैयार किया जाता है। दांतों का रंग और आकार ठीक करने में भी इसका प्रयोग किया जाता है।

अंगूर पूरी तरह से प्राकृतिक है। इसमें पाए जाने वाले तत्व और अधिकतर आहार और सब्जियों में पाए जाने वाले फ्लेवोनायड का संयोजन कोलेजन में हुई क्षति को ठीक कर सकने में सहायक होता है। फ्लेवोनायड वनस्पतियों में पाए जाने वाले वो कुदरती रंजक हैं, जिनकी संरचना फ्लेवॉन के समान होती है। फ्लेवॉन एक तरह का रंगहीन ठोस यौगिक होता है जिसमें बड़ी मात्रा में सफेद या पीले पादप वर्णक होते हैं। रेजिन और कोलेजन से भरपूर डेंटिन का जुड़ाव काफी मजबूत हो जाता है। उस पर नमी का कोई असर नहीं पड़ता।