नौसेना उप-प्रमुख पवार ने कहा- आतंकी हमलों को हराने के लिए पूरी तरह तैयार हैं

पांच दिन बाद मुंबई हमले 26/11 की वर्षगांठ है, जिससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संभावित आतंकवादी हमलों को विफल करने पर सुरक्षाबलों की तारीफ की हैं। जिसके बाद शुक्रवार को भारतीय नौसेना की तरफ से उप-प्रमुख वाइस एडमिरल एमएस पवार ने कहा कि सेना समुद्र से होने वाले आतंकवाद हमने को विफल करने के लिए पूरी तरह मुस्तैद हैं। पवार ने आश्वासन दिया कि नौसेना समुद्र से आतंकवाद के हर खतरे को हराने के लिए पूरी तरह तैयार है।

पवार ने कहा पांच दिन बाद मुंबई आतंकी हमले को 12 साल हो जाएंगे। ऐसे में मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारतीय नौसेना सभी हितेषियों के साथ मिलकर समुद्र या समुद्र से आतंकवाद के हर खतरे का सामना करने के लिए तैयार हैं। बता दे इससे मोदी ने पाकिस्तान के आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद द्वारा जम्मू-कश्मीर में जमीनी स्तर पर होने वाले अभ्यास को लक्षित करने के लिए नापाक साजिश को विफल करने पर सुरक्षा बलों को बधाई दी थी।

याद दिला दे मुंबई आतंकवादी हमले 26 नवंबर 2008 को हुए थे, जो चार दिन तक चले। इस हमले में 166 लोग मारे गए और 300 से अधिक लोग घायल हुए थे। इस दौरान 9 आतंकवादी भी मारे गए और जीवित बचे आतंकी अजमल आमिर कसाब को यरवदा सेंट्रल जेल में मौत की सजा सुनाई गई। इसके बाद 2012 में पुणे में। 11 नवंबर 2012 को कसाब को पुणे की यरवदा जेल में फांसी पर चढ़ा दिया गया।

यह भी पढ़े: मसूद अजहर के भाई के इशारे पर तबाही करना चाहते थे नगरोटा में मारे गए 4 आतंकी
यह भी पढ़े: अगर आप भी करते हैं प्राणायाम, तो इसे अवश्य पढ़ें