भारत के आर्मी चीफ से बोले नेपाली पीएम-भारत और नेपाल का रिश्ता सदियों पुराना

चीन के साथ बढ़ती दोस्ती और भारत के साथ नक्शा विवाद, इन सब के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के सुर आज बदले-बदले नजर आये, जब भारतीय सेना अध्यक्ष मनोज मुकुंद नरवणे से उनकी काठमांडू में मुलाकात हुई। ओली ने इस दौरान दोनों देशों के बीस चल रहे विवाद को बातची के जरिये सुलझाने की उम्मीद व्यक्त की। उन्होंने कहा नेपाल और भारत का रिश्ता सदियों पुराना और खास है…। दोनों अपने मुद्दों को बातचीत के जरिए सुलझा लेंगे।

केपी शर्मा ओली के विदेश सलाहकार रंजन भट्टाराई ने ट्वीट कर कहा ‘प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों देशों के सेना प्रमुखों को मानद महारथी का दर्जा देने की परंपरा है। बैठक के दौरान पीएम ने विश्वास जाहिर किया कि दोनों देशों के बीच मौजूदा मुद्दों को बातचीत से सुलझा लिया जाएगा।’

बता दे भारतीय सेना अध्यक्ष मनोज मुकुंद नरवणे तीन दिवसीय दौरे पर काठमांडू पहुंचे हैं। यहां गुरूवार को उन्हें राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी की तरफ से नेपाली सेना के जनरल की मानद उपाधि दी गई। यह सम्मान उन्हें राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास शीतल निवास पर आयोजित सामारोह में दिया गया। इस मौके पर जनरल नरवणे को तलवार भी भेंट की गई। इसके बाद शुक्रवार को नरवणे और ओली की मुलाकात पीएम आवास बालूवाटर में हुई।

यह भी पढ़े: उमर खालिद पर चलेगा UAPA के तहत केस, केजरीवाल सरकार ने दी मंजूरी
यह भी पढ़े: WHO ने अगली महामारी को लेकर दुनियाभर के नेताओं को चेताया, कहा-रहें तैयार