20 जुलाई से लागू होगा नया उपभोक्ता कानून, ग्राहकों को ठगा तो जेल और जुर्माना

केंद्र सरकार ने कंज्यूमर प्रोटेक्शन एक्ट 2019 के कई प्रावधानों के बारे में नोटिफिकेशन जारी किया है। जिसके तहत अब उपभोक्ताओं को गुमराह करने वाले विज्ञापन देने वाली कंपनियों ओर कार्यवाही की जाएगी। नए नियम के तहत यदि कोई विज्ञापन भ्रामक और गलत जानकारी देने वाला पाया जाता है तो उसके लिए जेल की सजा भी संभव है। केंद्र सरकार द्वारा पारित यह प्रावधान देशभर में 20 जुलाई से प्रभावी हो जायेगा। इस नियम से ग्राहकों को बड़ी राहत मिलेगी।

नए नियमों के तहत ग्राहक जहां रहता है वहीं से शिकायत दर्ज करा सकता है। इससे पहले ग्राहक को सामान खरीदने की जगह जाकर शिकायत करानी होती थी। भारत सरकार द्वारा पारित यह नया कानून 34 साल पुराने 1986 के कानून की जगह लेगा। बता दे नए उपभोक्ता कानून को 9 अगस्त 2019 को ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की ओर से हरी झंडी मिल गई थी, जो अब 20 जुलाई से लागू होगा। इसके बारे में रामविलास पासवान पहले ही ट्वीट कर चुके थे।

नए प्रावधानों के आने के बाद अब ग्राहक निर्माता और विक्रेता को कोर्ट में घसीट सकता है। वह उपभोक्ता फोरम में शिकायत कर मुआवजे की मांग भी कर सकता है। दोषी पाए जाने पर निर्माता या विक्रेता पर एक लाख रुपये तक का जुर्माना और छह महीने तक की जेल भी हो सकती है।

यह भी पढ़े: मध्यप्रदेश में नकाबपोशों ने बम से उड़ाया SBI का ATM, 22 लाख रुपये लेकर फरार
यह भी पढ़े: 80 साल की वृद्ध महिला के स्विस खाते में 196 करोड़ रुपये, इनकम महज 14 हजार