दरकिनार किए जाने से नाराज वसुंधरा समर्थकों ने बनाया अलग संगठन

राजस्थान बीजेपी में भी अब गुटबाजी सामने आने लगी है। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को दरकिनार किए जाने से नाराज उनके समर्थकों ने अब राजस्थान में अपना नया संगठन बना लिया है। इस संगठन का नाम दिया गया है वसुंधरा राजे समर्थक राजस्थान मंच।

टीम वसुंधरा के नाम से भी सोशल मीडिया में इसी मंच का एक अलग संगठन बनाया गया है। राजस्थान में वसुंधरा समर्थकों ने हर जिले में अपना जिलाध्यक्ष बनाना शुरू कर दिया है। इसके अलावा युवा संगठन और महिला संगठन भी तैयार किए जा रहे हैं।

वसुंधरा राजे समर्थक राजस्थान मंच के प्रदेश अध्यक्ष विजय भारद्वाज ने कहा – मैं 2003 में वसुंधरा राजे सिंधिया की वजह से जनता दल छोड़कर भाजपा में आया था और तब से भाजपा की राज्य कार्यकारिणी का सदस्य रहा हूं। हम लोग वसुंधरा राजे को मजबूत करना चाह रहे हैं।

सोशल मीडिया पर प्रदेश कार्यकारिणी और जिला कार्यकारिणी की सूचियां वायरल होने पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने बताया कि इस बात की जानकारी भाजपा के सभी नेताओं को है और जो लोग इस संगठन में काम कर रहे हैं वह लोग भाजपा में सक्रिय सदस्य नहीं हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा व्यक्ति आधारित पार्टी नहीं हैं, यह संगठन आधारित पार्टी है। पार्टी में ऐसी कोई परंपरा नहीं रही है कि समर्थक अपनी टीम घोषित कर दें।

यह भी पढ़ें:

जीमेल पर कई ऐसे फीचर्स हैं, जिनके बारे में काफी लोगों को नहीं पता है