डेंगू ही नहीं, इन बीमारियों में भी काम आते है पपीते के पत्ते

पपीते का सेवन तो लोग काफी संख्या में करते हैं, लेकिन इसके पत्ते भी उतने ही लाभदायक होते हैं। खासतौर से, डेंगू से लड़ने में पपीते के पत्तों के रस का सेवन करने की सलाह दी जाती है। वैसे पपीते के पत्तों का प्रयोग सिर्फ यही तक सीमित नहीं है, बल्कि यह अन्य कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने में भी मददगार है। तो चलिए जानते हैं पपीते के पत्ते से होने वाले कुछ स्वास्थ्य लाभों के बारे में-

अगर आपको डेंगू ने अपनी चपेट में ले लिया है तो पपीते के पत्तों का रस किसी वरदान से कम नहीं है। पपीते के पत्तों के रस को पीने से प्लेटलेट की संख्या में वृद्धि होती है और व्यक्ति जल्दी ठीक होता है। साथ ही पपीते के पत्तों का रस शरीर से डेंगू के विषैले जहर को भी निकालने में मददगार होता है।

वहीं डेंगू के अतिरिक्त इसे महिलाओं के लिए भी विशेष रूप से लाभदायी माना गया है। खासतौर से, अगर आपको मासिक धर्म के दौरान काफी दर्द व पीड़ा होती है तो आप पपीते के पत्ते के रस का इस्तेमाल करें। इसके लिए आप पपीते के पत्ते को पानी में डालकर उसमें इमली व नमक भी डालें। जब यह अच्छी तरह उबल जाए तो इसे हल्का ठंडा करके पीएं। इससे आपको दर्द में आराम मिलेगा।

वहीं यह कैंसर को भी आपसे दूर रखता है। दरअसल, पपीते के पत्ते शरीर के वाइट ब्लड सेल्स को बढ़ाने में मदद करते हैं, जिसके कारण कैंसर शरीर में अपनी जड़ें नहीं जमा पाता। यह वाइट ब्लड सेल्स कैंसर को खत्म करने में भी मदद करते हैं क्योंकि यह सेल्स इम्युनिटी को बूस्ट अप करते हैं।