सिर्फ ठंडक ही प्रदान नहीं करता गन्ने का रस, मिलते हैं कई महत्वपूर्ण फायदे

गर्मी के मौसम में लोग गन्ने का रस पीना काफी पसंद करते हैं। इसे पीते ही शरीर में ठंडक और उर्जा आ जाती है। लेकिन अगर आप सोचते हैं कि गन्ने के रस से सिर्फ ठंडक ही मिलती है तो आप गलत है। इसे पीने के अपने भी अलग फायदे हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

1 गिलास गन्ने के रस में 111 कैलोरी, 27 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 0.27 ग्राम प्रोटीन और 13 ग्राम डाइटरी फाइबर होता है इसलिए यह तेजी से वजन घटाता है। इसके अलावा गन्ने में प्रचुर मात्रा में मैग्‍नीशियम, कैल्शियम, फास्फोरस, लोहा, जस्ता और पोटेशियम और विटामिन ए, बी-कॉम्प्लेक्स और सी भी पाया जाता है। गन्ने में फैट नहीं होता है। इसमें लगभग 30 ग्राम नेचुरल शुगर होती है।

अगर आप मोटापा कम करने के लिए गन्ने का रस पीना चाहते हैं तो इसमें नींबू निचोड़कर एक चुटकी काला नमक डालकर सुबह नाश्ते या दोपहर के लंच में पीएं। वैसे वर्कआउट के बाद या गर्मी से आने पर भी गन्‍ने का रस पीना बेहद लाभदायक माना जाता है। ऐसा करने से गन्‍ने का रस शरीर से निकल चुके नमक को बनाने में मदद करता है।

यह कैंसर से लड़ने में बेहद कारगर है। इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन और मैग्नेशियम की मात्रा इसके स्वाद को क्षारीय करती है, जिससे आप कैंसर से बचे रहते हैं। यह शरीर को प्रोस्टेट और ब्रैस्ट कैंसर से लड़ने में मदद करता है।

डायबिटीज के मरीज इसे पीने से बचते हैं, लेकिन यह उनके लिए बिल्कुल भी नुकसानदेह नहीं है। भले ही गन्ने का रस मीठा हो लेकिन इसमें प्राकृतिक शुगर होती है। साथ ही इसमें ग्लाइसीमिक इंडेक्स की मात्रा बहुत कम होती है, जो डायबिटीज के रोगी के लिए फायदेमंद होता है।

गन्ने में कैल्शियम, पोटाशियम और आयरन होता है जो शरीर की हड्डियों को मजबूत करता है। गन्ने के रस के रेगुलर सेवन से जोड़ों में होने वाली दर्द दूर होती है।

गन्ने के रस से शरीर का कोलेस्ट्राल कम होता है और दिल की कोशिकाओं में जमी फैट को जमने नहीं देता। इससे दिल की बीमारियां और हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है