बोर्ड का परीक्षा परिणाम कम रहने पर प्रदेश के 619 संस्था प्रधानों को नोटिस जारी

भीलवाड़ा (एजेंसी/वार्ता) : राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षा का परिणाम निर्धारित मापदंड से कम रहने पर भीलवाड़ा जिले के 22 सहित प्रदेश के 619 संस्था प्रधानों को माध्यमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से कारण बताओ नोटिस दिए गए हैं।


सूत्रों के अनुसार वर्ष 2022 की बोर्ड परीक्षा में प्रदेश में कक्षा 12 के 21 एवं कक्षा 10 के 598 विद्यालयों का परीक्षा परिणाम निर्धारित मापदण्ड से कम रहा था। बोर्ड कक्षा में विद्यालय का परीक्षा परिणाम निर्धारित मापदंड से न्यून रहने पर कारण बताओ नोटिस दिए गए हैं।


माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने इन सभी संस्था प्रधानोंं को 15 दिन में वर्ष 21-22 में बोर्ड परीक्षा परिणाम कम रहने का कारण बताते हुए अपना स्पष्टीकरण देने को कहा है। संतोषजनक जवाब नहीं होने पर उनके खिलाफ 17 सीसीए में विभागीय जांच शुरू की जाएगी।


प्रदेश के भीलवाड़ा , अजमेर, कोटा, पाली व बांसवाड़ा में जिले में दो- दो, अलवर, बाड़मेर, बीकानेर, चितौडगढ़़, दौसा, जालौर, जोधपुर में एक-एक तथा उदयपुर के चार स्कूलों में कक्षा 12 का परिणाम कमजोर रहा।


इसी प्रकार उदयपुर के 59, अजमेर के 29, अलवर के 21, बांसवाड़ा के 11, बारा के 42, बाड़मेर के 18, भरतपुर के 21, भीलवाड़ा के 22, बीकानेर के 16, बूंदी के 27, चितौडगढ़़ के 40, चूरू के 9, दौसा के 2, धौलपुर के 25, श्रीगंगानगर के 7, हनुमानगढ़ के 2, जयपुर के 17, जैसलमेर के 12, जालौर के 7, झालावाड़ के 17, झुंझुनूं के 1, जोधपुर के 9, करौली के 13, कोटा के 29, नागौर के 13, पाली के 36, प्रतापगढ़ के 29, राजसमंद के 17, सवाईमाधोपुर के 18, सीकर के 4, सिरोही के 4, टोक के 10 विद्यालयों को न्यून परिणाम रहने पर नोटिस दिया गया।

एजेंसी/वार्ता

यह भी पढ़ें:-भारत में जल्द लांच होगा वीवो X90 सीरीज, जानिए खास फीचर्स