NTPC ने उत्तराखण्ड में राहत एवं पुनर्निर्माण कार्यों के लिए रु 8 करोड़ का योगदान दिया

भारत की सबसे बड़ी एकीकृत विद्युत कंपनी एनटीपीसी ने उत्तराखण्ड के आपदा प्रभावित क्षेत्रों में राहत, पुनर्वास और बहाली के कार्यों के लिए रु 8 करोड़ का आर्थिक सहयोग प्रदान किया है।

रु 22.5 करोड़ की इस परियोजना की लागत का भारवहन सीएसआर पहल के तहत संयुक्त रूप से सार्वजनिक क्षेत्र के सात उपक्रमों द्वारा किया जाएगा। इस राशि का उपयोग सरकारी स्कूलों एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में पुनर्निर्माण और पुनर्वास कार्यों के लिए किया जाएगा, जो इसी साल अक्टूबर में आई भारी बारिश में तबाह हो गए थे।

विद्युत क्षेत्र के सभी सीपीएसई की ओर से श्री आर.के. सिहं, माननीय केन्द्रीय मंत्री (विद्युत, नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा) द्वारा श्री धान सिंह रावत, माननीय शिक्षा, स्वास्थ्य और आपदा प्रबन्धन के माननीय मंत्री, उत्तराखण्ड को रु 22.5 करोड़ का चैका सौंपा गया। इस अवसर श्री पुष्कर सिंह, धामी, उत्तराखण्ड के माननीय मुख्यमंत्री, श्री कृष्ण पाल, राज्य के लिए माननीय केन्द्रीय विद्युत मंत्री, श्री आलोक कुमार, सचिव-विद्युत, भारत सरकार भी मौजूद थे।

माननीय मंत्री जी ने उत्तराखण्ड राज्य में आपदा से प्रभाावित इमारतों के पुनर्निर्माण में एनटीपीसी और सीपीएसई के प्रयासों के सराहना की।

श्री गुरदीप सिंह, सीएमडी, एनटीपीसी तथा एनटीपीसी के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी वर्चुअल रूप से समारोह में हिस्सा लिया।

एक ज़िम्मेदार कॉर्पोरेट होने के नाते एनटीपीसी न सिर्फ भरोसेमंद एवं किफ़ायती विद्युत की उपलब्धता को सुनिश्चित करती है बल्कि अपने सीएसआर प्रयासों के माध्यम से समाज कल्याण की दिशा में भी प्रतिबद्ध है।

यह भी पढ़ें:

अपनी शादी और तलाक को लेकर चर्चा में है ये महिला