नूतलपति वेंकट रमणा ने ली 48वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ

न्यायमूर्ति एन. वेंकट रमणा ने आज भारत के 48वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण की। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में आयोजित सादे समारोह में उन्हें पद की शपथ दिलाई।

उन्होंने न्यायमूर्ति शरद अरविंद बोबडे का स्थान लिया है जिनका कार्यकाल कल पूरा हो गया। न्यायमूर्ति रमणा करीब 16 महीने तक इस पद पर बने रहेंगे और अगले साल 26 अगस्त को सेवानिवृत्त होंगे।

समारोह में उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश और कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

27 अगस्त 1957 को आंध्रप्रदेश के कृष्णा जिले के पोन्नावरम गांव में जन्मे न्यायमूर्ति रमणा ने फरवरी 1983 में वकालत शुरू की थी और 2014 में उन्‍हें उच्‍चतम न्‍यायालय में न्‍यायाधीश नियुक्‍त किया गया था।

यह भी पढ़ें:

कोरोना के मरीजों को निशुल्क अस्पताल पहुंचा रहे हैं ऑटो रिक्शा चालक “रवि”