Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / नई मां के लिए बेहद अच्छा माना जाता है ओटमील

नई मां के लिए बेहद अच्छा माना जाता है ओटमील

मां बनने के बाद एक स्त्री की जिम्मेदारी काफी हद तक बढ़ जाती है। शुरूआती कुछ माह तक नवजात अपनी खानपान संबंधी आवश्यकताओं के लिए मां पर ही निर्भर होता है। कहा जाता है कि मां का दूध बच्चे के लिए अमृत समान है और बच्चे को स्तनपान ही कराना चाहिए।

लेकिन कुछ मांए ऐसी होती हैं, जिनका दूध बच्चे को पूरा नहीं पड़ता। ऐसे में जरूरत होती है कि आप अपने खानपान पर ध्यान दें। ब्रेस्ट मिल्क की हेल्दी सप्लाई बनी रहे इसके लिए जरूरी है कि आप पोषक तत्वों से भरपूर हेल्दी चीजों का सेवन करें। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

Loading...

पोषक तत्वों से भरपूर नट्स या ड्राई फ्रूट्स को नई मांओं को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करना चाहिए। इनमें काजू, बादाम और अखरोट सबसे बेस्ट ऑप्शन माने जाते हैं। साथ ही नट्स सेरोटोनिन का प्रॉडक्शन बढ़ाते हैं जो ब्रेस्ट मिल्क के प्रॉडक्शन के लिए बेहद जरूरी है।

ओटमील भी नई मां के लिए बेहद अच्छा माना गया है। इसमें मौजूद आयरन महिला को अनीमिया का शिकार नहीं होने देता। जिससे शरीर में रेड ब्लड सेल काउंट बढ़ाता है। साथ ही इसे बनाना भी बेहद आसान होता है।

ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मांओं में दूध का प्रॉडक्शन बढ़ाने में लहसुन भी मददगार साबित हो सकता है। इसलिए किसी न किसी रूप में इसे अपनी डाइट का हिस्सा अवश्य बनाएं।

प्रेग्नेंसी के दौरान भले ही पपीता खाने से मना किया जाता हो लेकिन पोस्ट प्रेग्नेंसी में पपीता बेहद फायदेमंद साबित होता है, खासतौर पर कच्चा पपीता। कच्चा पपीता खाने से शरीर में ऑक्सिटोसीन नाम के हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ता है जो बदले में दूध के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है। आप चाहें तो कच्चे पपीते को उबाल कर खा सकती हैं या फिर उसकी कोई टेस्टी सी डिश बना लें

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *