गठिया की जांच में मोटापा डालता है बहुत परेशानी

Calf pain, physical injury. Male leg and muscle pain from running or training, sport physical injuries when working out. Man athlete holding leg with painful red spot over black and white background.

मोटापा कई बीमारियों की वजह तो है ही, साथ ही कुछ बीमारियों को छिपाने का महत्वपूर्ण कारण भी है। ताजा शोध के मुताबिक, महिलाओं में मोटापे के कारण गठिया (रूमेटाइड आर्थराइटिस) की जांच पर बहुत प्रभाव पड़ता है। रूमेटाइड आर्थराइटिस (आरए) में जोड़ों में सूजन के साथ भयंकर दर्द होता है। शोधकर्ताओं ने बताया कि मोटापे के कारण आरए की स्थिति जानने के लिए होने वाली जांचों सीआरपी और ईएसआर पर प्रभाव पड़ता है। अमेरिका की पेंसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता ने बताया, ‘सीआरपी और ईएसआर के स्तर से आरए का पता लगाया जाता है। वहीं महिलाओं में मोटापे के कारण भी सीआरपी और ईएसआर का स्तर बहुत बढ़ जाता है। ऐसी स्थिति में आरए की वास्तविक स्थिति का पता लगाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है।’ शोधकर्ताओं ने बताया कि मोटापे और सीआरपी व ईएसआर के बीच संबंध जानकर चिकित्सकों को आरए के लिए दवाओं के चयन में सहायता मिल सकेगी।

यह भी पढ़ें-

अपनाएं ये आसान उपाय कब्ज दूर करने के लिए