गौरव दिवस कार्यक्रम में अश्लील डांस

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के गौरव दिवस कार्यक्रम में अश्लील डांस और फूहड़ गानों से जुड़े वीडियो वायरल होने के बाद शासन की ओर से आयोजित ये कार्यक्रम विवादों में घिर गया है। खंडवा जिला प्रशासन ने प्रख्यात गायक स्वर्गीय किशोर कुमार के जन्मदिवस पर तीन दिवसीय गौरव दिवस मनाने की घोषणा की थी। इसके पहले ही दिन प्रशासन इस वीडियो के वायरल होने के चलते विवादों में घिर गया है।

कार्यक्रम में महिला अधिकारियों के भी डांस में शामिल होने और स्कूली बच्चियों से फूहड़ गानों पर डांस कराने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध करते हुए कलेक्टर का घेराव कर दिया। वहीं हिंदू संगठनों ने भी इसे भारतीय संस्कृति के विरुद्ध बताते हुए कार्रवाई की मांग की है।

इस संबंध में कलेक्टर अनूप कुमार सिंह ने कहा कि गौरव दिवस कार्यक्रम में मेराथन या योग कराने का भी प्रस्ताव था, लेकिन उसमें लोग थक जाते, इसलिए जुम्बा डांस कराने का निर्णय लिया। इसमें कौन से गाने बजेंगे, यह प्रशासन ने नहीं तय किया था, सभी गाने डीजे वाले ने ही बजाये।

बताया जा रहा है कि खंडवा का गौरव दिवस धर्म और आध्यात्म के क्षेत्र में दादाजी धूनीवाले, निमाड़ के महान संत सिंगाजी महाराज या पद्मभूषण पंडित माखनलाल चतुर्वेदी में से किसी एक के नाम पर मनाए जाने के प्रस्ताव आए थे, लेकिन प्रशासन ने किशोर कुमार के जन्मदिवस को गौरव दिवस मनाने का निर्णय लिया। प्रशासन ने इसे तीन दिवसीय आयोजन मनाने का निर्णय लिया, लेकिन कल पहले ही दिन ये अपनी फूहड़ता के चलते विवादों में घिर गया।

यह भी पढ़े: ‘यंग इंडिया’ को कुचलने का ‘आजाद भारत’ देगा जवाब : कमलनाथ