ओमिक्रॉनः बिगड़ती स्थिति के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिया ये आश्वासन

बिगड़ती COVID-19 स्थिति के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को स्पष्ट किया कि उनकी सरकार शहर भर में पूर्ण लॉकडाउन नहीं करेगी क्योंकि जिस दर से कोविड -19 संक्रमण फैल रहा था वह धीमा हो गया है।

उन्होंने कहा, “चिंता न करें, हम लॉकडाउन नहीं लगाएंगे। डीडीएमए की बैठक में हमने केंद्र सरकार के अधिकारियों से प्रतिबंधों के लिए पूरे एनसीआर को कवर करने का अनुरोध किया, उन्होंने हमें उसी पर आश्वासन दिया है।”

इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल का भी दौरा किया और सुविधाओं का जायज़ा लिया। साथ ही उन्होंने देखा कि कोरोना संक्रमित लोग अस्पताल कम आ रहे है जिससे यह ज्ञात होता है की संक्रमण पहले की अपेक्षा हल्का है। उन्होंने लोगों से यह उम्मीद जताई की लोग कोरोना नियमों का पालन करें और मास्क पहनें।

इससे पहले दिन में, उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया और कहा कि, “दिल्ली के साथ-साथ देश के बाकी हिस्सों में भी कोविड -19 मामले बढ़ रहे हैं। लेकिन यह देखा गया है कि जिस दर से पहले संक्रमण फैल रहा था, वह धीमा हो गया है जो कि अच्छा है।”

उन्होंने कहा, “मुझे उम्मीद है कि यह प्रवृत्ति जारी रहेगी और जल्द ही कोविड -19 सकारात्मकता दर में और गिरावट आएगी।” उन्होंने यह भी घोषणा की कि उनकी सरकार होम आइसोलेशन में मरीजों के लिए विशेष योग/प्राणायाम कक्षाएं आयोजित करेगी।

बता दें,सोमवार को दिल्ली ने 19 हज़ार 166 मामले दर्ज किए, जिससे इसकी सकारात्मकता दर 25 प्रतिशत हो गई – 5 मई के बाद से यह सबसे अधिक 26.36 प्रतिशत थी। नए मामलों के साथ राजधानी में मामलों की कुल संख्या 15 लाख 68 हज़ार 896 हो गई है और मरने वालों की संख्या 25 हज़ार 177 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राजधानी में सक्रिय कोविड-19 मामलों की संख्या 65 हज़ार 806 हो गई है।

यह भी पढ़ें:

जावेद अख्तर ‘कला’ करें, ‘कलाकारी’ नहीं : नरोत्तम