थायरॉयड के मरीजों के लिए रामबाण है प्याज, जानिये- खानपान में कैसे शामिल करने से मिलेगा लाभ

लाइफस्टाइल से जुड़ी आज कल की बड़ी बीमारियों में थायरॉयड भी शामिल है। एक अध्ययन के मुताबिक 32 फीसदी भारतीय थायरॉयड ग्लैंड से जुड़ी अलग-अलग बीमारियों से पीड़ित हैं। ‘थायरॉयड’ गर्दन में एक विशेष ग्लैंड को कहा जाता है जो थायरोक्सिन नामक हार्मोन का उत्पादन करती है। ये हार्मोन शरीर के क्रिया-कलापों के लिए बहुत जरूरी है। लेकिन जिन लोगों में इस हार्मोन का उत्पादन अधिक मात्रा में होने लगता है, उन्हें थायरॉयड बीमारी हो जाती है। खराब जीवन शैली व शारीरिक असक्रियता के कारण न केवल उम्रदराज लोग बल्कि युवा भी इस बीमारी से पीड़ित हो रहे हैं। थायरॉयड से निजात पाने में कई घरेलू तरीके आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं, इन्हीं में से एक है प्याज का इस्तेमाल-

प्याज कैसे है फायदेमंद: पोषक तत्वों से भरपूर प्याज कई बीमारियों के इलाज में काम आता है। इसके एंटी-इंफ्लामेट्री, एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण इसे थायरॉयड के मरीजों के लिए उपयुक्त बनाता है। प्याज में मौजूद सल्फर इस बीमारी के कारण लोगों के शरीर में आई सूजन को कम करने में मदद करता है। वहीं, बॉडी में जो टॉक्सिक पदार्थ होते हैं उन्हें डिटॉक्स करने में भी प्याज कारगर माना जाता है।

खानपान में करें इस्तेमाल: थायरॉयड बीमारी इम्युन सिस्टम के कमजोर हो जाने के कारण लोगों को अपनी चपेट में लेती है। पर प्याज में पाए जाने वाले सेहत संबंधी फायदे मरीजों का रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सक्षम है। ऐसे में इन मरीजों के लिए प्याज का सेवन लाभदायक साबित हो सकता है। लोग चाहें तो कच्चे प्याज का सलाद या फिर रायते में डालकर इसे खा सकते हैं। इसके अलावा, हल्के मसालों में बनी हुई प्याज की सब्जी भी मरीजों के लिए बेहतर ऑप्शन साबित हो सकता है।

प्याज को गर्दन पर रगड़ने से होगा फायदा: थायरॉयड ग्लैंड गर्दन के पास एडम्स ऐप्पल के पास स्थित होता है। इस बीमारी को कंट्रोल करने के लिए लोग प्याज से इस ग्लैंड के आसपास प्याज से मसाज भी कर सकते हैं। रात को सोने से पहले नियमित रूप से प्याज का इस्तेमाल कर इस हिस्से में मसाज करने से मरीजों को फायदा हो सकता है। मसाज के लिए सबसे पहले एक प्याज लें और उसे बीच से दो हिस्सों में काट लें। फिर इससे ग्लैंड के आसपास क्लॉक-वाइज पोजिशन में मसाज करें। मसाज के बाद गर्दन को बिना धोए सो जाएं और प्याज के रस को रात भर ऐसे ही रहने दें। कुछ ही समय में आपको अंतर दिखने लगेगा।

यह भी पढ़े-

Kundali Bhagya: घायल होकर भी शक्ति अरोड़ा ने किया डेयरडेविल स्टंट, तारीफ में फैंस बोले- मर्द को दर्द नहीं होता