Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / देश में पेट्रोल पम्प खोलना हुआ आसान, सरकार ने किए नियमों में बदलाव

देश में पेट्रोल पम्प खोलना हुआ आसान, सरकार ने किए नियमों में बदलाव

भारत सरकार ने पेट्रोल पम्प खोलने के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है। अब पेट्रोल पम्प खोलना पहले के मुक़ाबले ज्यादा आसान हो गया है। सरकार ने ईंधन क्षेत्र में नई उदारीकृत खुदरा नीति जारी की है।

इन नियमों के तहत ईंधन की खुदरा बिक्री करने वाली कंपनियों को देशभर में कम से कम 100 पेट्रोल पम्प लगाने होंगे जिसमे से 5 पेट्रोल पम्प कहीं दूर दराज के इलाकों में खोलने के निर्देश है।

Loading...

साधारण तरीके से देखा जाए तो कपनियाँ के अलग अलग इलाकों में पेट्रोल पम्प खोलने के लिए फ्रेंचाईजी देगी। यह उन लोगों के लिए अच्छा मौका है जो फ्रेंचाईजी लेने के इच्छुक है।

पेट्रोल पम्प चालू शुरू होने के 3 साल के भीतर लाइसेंस पाने वाली कंपनियों को सीएनजी, बायो ईंधन, एलएनजी, इलैक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन आदि में से किसी एक डिस्ट्रिब्यूशन की सुविधा शुरू करनी होगी।

इस से पहले पेट्रोल पम्प खोलने के लिए कंपनियों को पेट्रोलियम के क्षेत्र में 2 हजार करोड़ का निवेश करने की जरूरत होती थी।

सरकार की इस नीति से विदेशी कंपनियाँ जैसे की फ़्रांस की टोटल एसए, सऊदी की आरामको, ब्रिताइन की बीपी आदि को भारत में आने का मौका मिलेगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस से पहले फ़्रांस की टोटल कंपनी ने अदानी ग्रुप के साथ मिलकर नवम्बर 2018 में देश में 1500 पेट्रोल पम्प और डीजल पम्प के लिए आवेदन कर चुकी है। बीपी जैसी कंपनी ने भी रिलायंस ग्रुप के साथ साझेदारी कर ली है।

फिलहाल अभी देश में 66,408 पेट्रोल पम्प चल रहे है जिसमे से ज़्यादातर पेट्रोल पम्प इंडियन ऑइल, भारत पेट्रोलियम, और हिंदुस्तान पेट्रोलियम के है। वहीं रिलायंस ग्रुप के 1400 पेट्रोल पम्प और शेल के 167 पेट्रोल पम्प मौजूद है।

– गौतम झा

 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *