शरीर की ताकत बढ़ाता है ऑर्गेनिक फ़ूड, जानिए स्वास्थ्य को क्या होता है लाभ

आज कल की इस भाग-दौड़ जिंदगी में हमारे खान-पान में भी काफी बदलाव आया हैं जहां इंसान पहले दो वक्त की रोटी खाकर सुखी था वहीं आज इंसान कुछ भी मिले ड्राई फ्रूंट, फास्ट फूड इत्यादि चीजे खा रहा हैं सिर्फ पेट भरने के लिए लेकिन उन्हें नहीं पता ये उनके लिए कितना हानिकारक साबित हो सकता हैं शरीर के अंदर बीमारियां तो पैदा करता ही हैं साथ ही वजन भी बढ़ाता हैं अगर ये सब खाकर आपको वजन बढ़ गया हैं और आप यदि आप अपना वजन घटाने की कोशिश में हैं और सफल नहीं हो पा रही हैं तो अपनी डाइट में थोड़ा-सा बदलाव कीजिए। आपकी डाइट में प्रोटीन, फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट्स और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होने चाहिए, जिससे आप न सिर्फ मोटापे से निजात पा सकेंगी, बल्कि शरीर को भी संतुलित आहार दे सकेंगी।

इन सब के लिए आपको ऐसा करने के लिए शाकाहारी खाना बहुत फायदेमंद साबित होता हंै खासकर ऑर्गेनिक फूड शरीर की ताकत को बढ़ाते हैं इनमें पत्ती और बीज आधारित फूड का उपयोग काफी हद तक प्रभावी रहता है।

मशरूम में होते हैं भरपूर फाइबर:
मशरूम एक ऐसा शाकाहारी खाद्य पदार्थ हैं, जिसमें कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती हैं ऐसे में यह वजन घटाने के लिए उपयुक्त आहार माना जाता हैं विशेषज्ञों के अनुसार मशरूम में फाइबर, प्रोटीन और विटामिंस काफी मात्रा में होते हैं फिर यदि आप मांसाहारी हैं तो मशरूम को अपनी डाइट में शुमार करके मीट से दूरी भी बना सकती हैं शाकाहारी भोजन को अपनाने की शुरुआत आप मशरूम के जरिए कर सकती है।

ओटमील एक बेहद ही उपयोगी शाकाहारी खाद्य पदार्थ हैं, जिसे दुनियाभर में काफी पसंद किया जाता हैं यह कैलोरी बर्न करता है, साथ ही शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर करता है। इसमें फाइबर, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी6 और कैल्शियम भी बड़ी मात्रा में होते हैं। ओट्स की सबसे अच्छी बात यह हैं कि इसे दही, स्मूदीज, सूप और स्वीट सभी के साथ लिया जा सकता हैं यह त्वचा की रंगत भी बढ़ाता है।

मसूर की दाल फायदेमंद:

शाकाहारी भोजन में दालें हमेशा से ही प्राथमिकता में रहती हैं खासकर मसूर की दाल काफी फायदेमंद रहती है। इसमें फाइबर और प्रोटीन की मात्रा बहुत ज्यादा होती हैं, साथ ही इसे पकाना भी बहुत आसान है। एक कप दाल आपके शरीर को जरूरी अमीनो एसिड देती है, जो वजन कम करने में सहायक है। इसे सूप और सलाद में भी इस्तेमाल में किया जा सकता है।

पालक भी बेहद आवश्यक:

बिना पालक के कोई भी डाइट प्लान पूरा नहीं किया जा सकता। पालक में विटामिन ए, बी और सी के साथ-साथ बड़ी मात्रा में फाइबर और प्रोटीन भी होता हैं इसके अलावा बीटा कैरोटिन और ल्यूटेन सहित कई स्वास्थ्यवर्धक घटक होते हैं पालक की सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे कई तरीकों से इस्तेमाल कर सकती हैं।

स्पीरूलिना:

स्पीरूलिना एक तरह की जलीय वनस्पति (शैवाल) है, जो दुनियाभर में सुपरफूड के तौर पर जानी जाती हैं इसमें विटामिन ए और बी12 के अलावा ओमेगा 3 एसिड और आयरन होता हंै यह सबसे ज्यादा स्मूदीज और जूस के तौर पर काम में आती हैं यह एक सप्लीमेंट के तौर पर भी ली जाती हैं, लेकिन इसके लिए चिकित्सक की सलाह भी जरूरी है।