आपका हैंड सैनिटाइजर असली है या नकली? ऐसे लगाएं पता

अब हैंड सैनिटाइजर की उपयोगिता काफी बढ़ गई है। नियमित रूप से हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करना COVID-19 को रोकने के लिए महत्वपूर्ण कदम हैं। डिमांड काफी बढ़ जाने के कारण मार्केट में कई तरह के नकली हैंड सैनिटाइजर मिलने लगे हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे आसान तरीकों के बारें में बताने जा रहे हैं जिससे पता लगाया जा सकता है कि सैनिटाइजर असली है या नकली?

आटे के मदद से हैडसैनिटाइजर की गुणवत्ता का पता लगाया जा सकता हैं। इसके लिए एक कटोरी में 1 चम्मच आटा लीजिए। इस आटे में थोड़ा-सा हैंडसैनिटाइजर डालिए। अब इन दोनों को अच्छी तरह मिलाकर गूथने की कोशिश कीजिए।

अगर आपका हैंडसेनिटाइजर असली है तो यह आटा नहीं गुथेगा बल्कि बिखरा-बिखरा रहेगा। लेकिन अगर आपका सैनिटाइजर नकली है तो यह आटे को ठीक उसी तरह गूंथ देगा जैसे कि आटा पानी में गुथता है।

असली सैनिटाइजर का पता लगाने के लिए आप टाइलट पेपर या टिश्यू पेपर का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए पेपर के ऊपर पेन की मदद से एक छोटा गोला बना दें। यह गोला पेपर के बीच में बनाएं।

अब इस गोले के ऊपर हैंडसैनिटाइजर की कुछ बूंदें डालें। यदि इस गोले की इंक फैल जाती है तो समझ लीजिए आपके सैनिटाइजर में मिलावट है और यह आपके हाथों को पूरी तरह डिसइंफेक्ट करने में सक्षम नहीं है।

जबकि अगर आपका हैंडसैनिटाइजर असली है तो इस गोले की इंक बिल्कुल नहीं फैलेगी। बल्कि सेनिटाइजर पेपर को गीला करेगा और बहुत जल्दी सूख जाएंगा।

सैनिटाइजर का टेस्ट विभिन्न वायरस के लिए किया गया है। ये आपके हाथों के सभी संभावित वायरस से छुटकारा पाने में मदद कर सकते हैं। 70% अल्कोहल की मात्रा वाले अल्कोहल-आधारित सैनिटाइजर का उपयोग करना चाहिए। 70% से कम अल्कोहल वाले सैनिटाइजर सभी तरह के वायरस को समाप्त नहीं कर पाते हैं।

यह भी पढ़ें:

स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक है पीपल