PAK ने मंजूर किया भारत में निर्मित टीका, खरीद के लिए इमरान खान दुविधा में

पाकिस्तान ने अपने यहां पहले कोरोना टीके को मंजूरी दे दी हैं। इमरान सरकार ने जिस टीके को मंजूर किया है, वह भारत की ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के द्वारा मिलकर तैयार किया गया ‘कोविशील्ड’ का टीका है। लेकिन इसका उत्पादन भारत में हो रहा है, जिस वजह से इमरान सरकार दुविधा में फंस गई हैं। ऐसी स्तिथि में पाक सरकार ने बीच का रास्ता निकालते हुए राज्यों और प्राइवेट सेक्टर को दूसरे देशों से बात करने को कहा हैं।

सरकार ने खुद को वैक्सीन खरीद से दूर करते हुए राज्यों और प्राइवेट सेक्टर को दूसरे देशों से बात करने की छूट दे दी है। पाक के मुख्य अखबार डॉन के मुताबिक यदि ड्रग रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ पाकिस्तान द्वार कोविड-19 को इमर्जेंसी उपयोग की मंजूरी देती है तो चीन की सरकारी कंपनी सिनोफार्मा के टीके को दो सप्ताह में देश में मंजूर किया जा सकता हैं। वहीं, कोविशील्ड का टीका पाक को द्विपक्षीय समझौते के तहत नहीं मिलेगा क्योंकि यह भारत में निर्मित है।

पाक की इमरान सरकार यह अच्छे से जानती है कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ जंग में जीतने के लिए उसे भारत की मदद की जरुरत पड़ेगी। दूसरी वजह यह भी है कि भारत का टीका दुनिया के अन्य देशों से काफी सस्ता है। इसलिए दुनियाभर के छोटे-बड़े देश भारत से टीके के लिए सहायता की मांग कर रहे है।

यह भी पढ़े: PAK ने अभी तक नहीं ऑर्डर की कोरोना वैक्सीन, भारत से उम्मीद ना के बराबर
यह भी पढ़े: इंसानों के बाद अब आईसक्रीम को भी हुआ कोरोना, जांच में जुटे चीनी अधिकारी