ड्रोन के जरिये आतंकियों को हथियार पहुंचा रहा पाकिस्तान, सेना के लिए बना चुनौती

भारत सीमा के पास पाकिस्तान अशांति फैलाने की तैयारी कर रहा है। देश में अशांति फैलाने के लिए पाक न सिर्फ आतंकियों की घुसपैठ करा रहा है बल्कि ड्रोन की मदद से हथियारों की खेप भी भेज रहा है। भारत के सुरक्षाबलों के लिए आतंकियों के खिलाफ अभियान में यह सबसे बड़ी चुनौती बन गया है। यह जानकारी जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने शनिवार को मीडिया के सामने दी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अशांति फैलाने का प्रयास कर रहा है।

दिलबाग सिंह ने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों की भी घुसपैठ कराने का प्रयास कर रहा है। वही ड्रोन के जरिए हथियारों की खेप को रोकना चुनौतीपूर्ण है, लेकिन इसे रोकने में हम काफी हद तक सफल रहे है। सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों को जरुरी मदद पहुंचाकर पाकिस्तान आतंकवाद को घाटी में बढ़ावा देने में लगा है। लेकिन हम ड्रग्स तस्करों से कड़ाई से निपट रहे है। पाकिस्तान टेरर फंडिंग के लिए नार्को टेररिज्म का इस्तेमाल कर रहा है।

बता दे शनिवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सुरक्षा एजेंसियों की मदद से राजौरी जिले से हथियारों से लैस लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से दो एके-56 राइफल, छह एके मैगजीन और उसकी 180 राउंड गोलियां, दो चीनी पिस्तौल, तीन अन्य पिस्तौल और उसकी 30 राउंड गोलियां, 4 ग्रेनेड, 2 पैकेट और एक लाख रुपये नकदी भी बरामद की गई है। पुलिस ने पूरे मामले को दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े: अमेरिका-ताइवान दोस्ती से चिढ़ा चीन, ताइवान पर कब्जा करने की दी धमकी
यह भी पढ़े: जयपुर में एक परिवार के चार लोगों ने लगाई फांसी, कर्ज के बोझ से परेशान थे सब