पलटीमार पाकिस्तान: दाऊद इब्राहिम के कराची में होने वाले बयान से मारी पलटी

जैसे-तैसे पाकिस्तान ने 27 साल बाद कबूल किया था कि मोस्टवांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम उसके यहां कराची में है। माना जा रहा था कि विश्वभर में आतंकी फंडिंग पर नजर रखने वाले वित्तीय कार्रवाई कार्यबल एफएटीएफ की काली सूची से बचने के प्रयास में पाकिस्तान ने यह कबूलनामा मजबूरी में उठाया। लेकिन रात होते-होते पाकिस्तान अपने बयान से पलट गया है। वह पूरे 12 घंटे भी अपने बयान पर नहीं टिका और कहा दाऊद इब्राहिम उसकी जमीन पर नहीं है।

बता दे पाकिस्तान ने आतंकियों की एक लिस्ट जारी की थी। जिसमें दाऊद इब्राहिम कराची में रह रहा है, इस बात का जिक्र किया गया था। इसमें उसका पता व्हाइट हाउस, कराची लिखा गया है। ये सभी प्रतिबंध पाकिस्तान ने यूएन की लिस्ट जारी होने के बाद लगाए थे। साथ ही उसने दाऊद इब्राहिम का खाता सील करने के साथ साथ उस पर शिकंजा कसने के भी आदेश जारी करने की बात कही थी। लेकिन आदतन पल्टीबाज पाकिस्तान फिर बयान से पलट गया है।

इससे पहले पाकिस्तानी अखबार द न्यूज में प्रकाशित खबर में कहा गया था कि इमरान सरकार ने 88 आतंकी संगठनों और उनके आकाओं पर वित्तीय प्रतिबंध की जानकारी एफएटीएफ को दे दी है। सूची में जमात-उद-दावा सरगना हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर के साथ दाऊद का भी नाम है। जिसके तहत इन संगठनों और उनके आकाओं की सभी सम्पत्तियां कुर्क करने और उनके बैंक खातों को सीज करने के आदेश जारी किये गये थे।

यह भी पढ़े: पाक ने कबूला, मुंबई ब्लास्ट का मास्टरमाइंड और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद उसके यहां
यह भी पढ़े: आप भी होना चाहते है कोरोना वैक्सीन परीक्षण में शामिल, तो रखें इन बातों का ध्यान