Breaking News
Home / ज़रा हटके / पुलवामा हमले की निंदा के लिए पाकिस्तानी लड़कियों ने उठाया ऐसा कदम, कि आप भी करेंगे तारीफ

पुलवामा हमले की निंदा के लिए पाकिस्तानी लड़कियों ने उठाया ऐसा कदम, कि आप भी करेंगे तारीफ

जम्मू कश्मीर में पुलवामा आतंकी हमले ने पूरे भारत में तमाम लोगों को झकझोर कर रख दिया है और पाकिस्तान की सरकार ने अपनी भूमिका निभाने से इनकार कर दिया है, वहीं कुछ युवा पाकिस्तानी लड़कियों ने सोशल मीडिया पर एक मुहिम शुरू की है. इन पाकिस्तानी महिलाओं ने 44 शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की है और पुलवामा आतंकी हमले की निंदा भी की है.

Loading...

सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी पत्रकार ने शुरू किया कैंपेन

भारत और पाकिस्तान के बीच तमाम तनाव के बीच, पाकिस्तानी पत्रकार सहर मिर्ज़ा(Sehyr Mirza) ने सभी सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर #AntiHateChallenge लॉन्च किया है, जहां Sehyr Mirza और अन्य पाकिस्तानी महिलाएं युद्ध और आतंकवाद के खिलाफ बोलती नज़र आती हैं. मिर्ज़ाने दोनों देशों से विशेष रूप से पाकिस्तान से सोशल मीडिया पर शांति अभियान में शामिल होने का आग्रह किया है.

#AntiHateChallenge

सहर ने 19 फरवरी को अपने FB अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की जिसमें वो एक तख्ती लेकर खड़ी दिख रही हैं. इसमें लिखा है, “मैं एक पाकिस्तानी हूं. और मैं पुलवामा आतंकी हमले की निंदा करती हूं.” इसके साथ ही Sehyr Mirza की तख्ती पर लिखा है #AntiHateChallenge और #NoToWar. मिर्ज़ा ने तस्वीर के साथ लिखा है, “मैं देशभक्ति के लिए इंसानियत का सौदा नहीं करूंगी.” तस्वीर के कैप्शन में #WeStandWithIndia और #NoToTerrorism भी लिखा है. महिला पत्रकार सहर मिर्ज़ा इस तस्वीर के माध्यम से यह संदेश देना चाहती हैं कि वो भारत के साथ हैं और आंतकवाद के खिलाफ हैं.

तख्ती के जरिए प्रकट की अपनी संवेदनाएं

इस अभियान पर सोशल मीडिया पर हर तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं. FB पर एक अकाउंट ‘Aman Ki Asha’ है. इसमें सहर ही नहीं बल्कि अन्य पाकिस्तानी महिलाओं ने तख्ती पकड़कर अपनी तस्वीरें पोस्ट की हैं, जहां उन्होंने अपनी तख्ती पर लिखा है, “मैं एक पाकिस्तानी हूँ और मैं पुलवामा आतंकी हमले, #AntiHateChallenge #NoToWar की निंदा करती हूँ.”

महिला पत्रकार ने ‘Aman Ki Asha’ नामक FB पेज पर संदेश पोस्ट करते हुए लिखा कि “कश्मीर में हुए दर्दनाक आतंकी हमले में कई निर्दोष लोगों की जान गई, हम उससे बेहद दुखी हैं. ऐसे वक्त में हमें जरूरत है कि ज्यादा से ज्यादा लोग सामने आएं और जंग और आतंक के खिलाफ आवाज उठाएं. हमनें इस अभियान के जरिए न केवल हमले की निंदा की है बल्कि अपने भारतीय दोस्तों के साथ एकजुटता भी व्यक्त की है. पाकिस्तानी फॉलोवर्स से अनुरोध करती हूं कि जो जो कोई भी हमारे जैसा महसूस कर रहा है, हमारी इस मुहीम में हमारा साथ दे.”

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *