बैगन से बनाने चाहिए दूरी पथरी की शिकायत वाले लोगो को

बैंगन एक सदाबहार सब्जी है। इसमें एंटी-एंटीओक्सिडेंट , कई तरह के विटामिन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कैल्शियम, सोडियम, कॉपर, पोटेशियम, मैगनीज, जिंक आदि तत्व पाए जाते हैं। वैसे तो इसका सेवन कई मायनों में लाभदायक माना गया है। लेकिन वहीं कई बार इसके सेवन से आपको काफी परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है। खासतौर से, कुछ लोगों को तो इससे परहेज ही करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

बैंगन आपके शरीर में लौह तत्व को कम करता है और इससे एनीमिक होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। इसलिए महिलाओं को माहवारी के समय या फिर नकसीर या खुनी बवासीर की समस्या से ग्रस्त और अक्सर रक्तदान करने वाले व्यक्ति को बैगन को सेवन जरा संभलकर करना चाहिए।

बैंगन में नेनुसिन नामक तत्व पाया जाता है जो रक्तवाहिकाओं के बनने में बाधा उत्पन्न करता है। इसलिए गर्भवती स्त्री के लिए भी बैंगन का सेवन उचित नहीं माना जाता क्योंकि इसका विपरीत असर उसके गर्भस्थ शिशु पर पड़ता है।

जिन लोगों को किडनी में पथरी की शिकायत है, उन्हें भी बैंगन से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। दरअसल, इसमें ओक्जेलेट पाया जाता है, जो इनकी समस्या को बढ़ा सकता है। वहीं ओक्जेलेट शरीर में कैल्शियम के अवशोषण पर विपरीत प्रभाव डालता है, जिसके कारण आपकी हड्डी और दांत कमजोर हो सकते हैं।