INDIA vs CHINA: सेना की मदद के लिए हिमालय की चोटी तक चढ़ रहे चुशुल के लोग

लद्दाख के चुशुल गांव के लोग अपने गांव को चीनी नियंत्रण में आने देना नहीं चाहते है। इसके लिए वे भारतीय सेना की मदद करने का हरसंभव प्रयास कर रहे है। जिसके तहत ग्रामीण ब्लैक टॉप के रूप में जानी जाने वाली हिमालय की पर्वत चोटी की यात्रा करने में भी नहीं हिचकिचा रहे है। बताया जा रहा है कि सैंकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष, युवा और अधेड़ आदि चावल की बोरी, ईंधन के डिब्बे और अन्य जरूरी वस्तुओं को सेना के जवानों तक पहुंचा रहे है।

जरुरी वस्तुओं के साथ गांव के लोग ब्लैक टॉप की ओर चढ़ाई कर रहे है। यह वही जगह है, जहां भारतीय सेना के सैकड़ों जवान टेंट लगाकर रहते हैं और चीनी घुसपैठ का मुंहतोड़ जवाब देने में लगे हुए है। जवानों के लिए आने वाली सर्दियां और भी गंभीर हो सकती है क्योंकि यहां तापमान शून्य से 40 डिग्री सेल्सियस नीचे चला जाता है। ऐसे में ग्रामीणों को डर है कि भारतीय सेना के जवानों को आवश्यक मदद नहीं मिलेगी तो गांव चीनी नियंत्रण में आ सकता है।

गांव के लोगों का कहना है कि वे भारत की सेना को उनके पोस्ट को तुरंत सुरक्षित करने में मदद करना चाहते है। इसलिए जवानों को जरूरी सामानों की आपूर्ति करवाई जा रही है। वे सुनिश्चित करना चाहते है कि सेना को बहुत अधिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़े।

यह भी पढ़े: नहाते समय पानी में डालें नमक, मिलेंगे जबर्दस्त फायदें
यह भी पढ़े: अगर आप घुटनों के दर्द से हैं परेशान, तो काम आएगा मेथीदाना