जो लोग रूक-रूक कर हंसते है वे लोग अपने काम में होते है बड़े चतुर

जैसा की हम सभी जानते हैं हंसना सेहत के लिए कितना अच्छा होता हैं। हंसने से ना केवल मन हल्का होता हैं बल्कि शरीर में खून भी बढ़ता हैं. इन सबके बाद आप लोगों की हंसी से उसके व्यक्तित्व की पहचान कर सकते हैं. कैसे? तो हम आपको बताते हैं…

*जो लोग खिलखिलाकर हंसते है। वे भरोसेमंद और ईश्वर में श्रद्धा रखने वाले होते है। साथ ही अपनी लव-लाइफ में ये लोग हमेशा ईमानदार होते है।

*जो ठहाका मारकर ऊंचे स्वर में हंसने वाले लोग अपने जीवन को एक उॅचे मुकाम पर पहुंचाने के लिए सतत् प्रयास रहते है। इनकी हंसी में अहंकार भी दिखता है।

*जो लोग रूक-रूक कर हंसते है वे अपने काम में बड़े चतुर होते हैलेकिन इनके मस्तिष्क में हर समय कुछ सोचते रहते है। ये लोग गंभीर और धैर्य रखने वाले होते है। सबके साथ एक सामान्य व्यहार करने की कोशिश करते है। ये अपने शान्त स्वभाव से सबको अपनी ओर आकर्षित कर लेते है।

*घोड़े के जैसे हिनहिना कर हंसने वाले लोग बड़े चालबाज, मक्कार, धूर्त, अहंकारी व चरित्रहीन होते है। ये लोगों से अपना मतलब निकालने में माहिर होते है। स्वार्थ निकलने के बाद ये उस व्यक्ति को भूल जाते है।

*जो लोग हर व्यक्ति से हंसकर मिलते है और छोटी-छोटी बातों पर बेवजह हंसा करते है। ऐसे जातक काफी मिलनसार होते है, इनका जनसम्पर्क का क्षेत्र व्यापक होते है, किन्तु ये स्वार्थी होते है।