PM मोदी ने कर्नाटक को दी 28,000 करोड़ की सौगात, कई परियोजनाओं का किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Marendra Modi) सोमवार को दो दिवसीय दौर कर्नाटक पहुंचे. इस दौरान पीएम मोदी ने 28,000 करोड़ रुपये की रेल और सड़क बुनियादी ढांचा परियोजनाओं (Rail and Road Infrastructure Projects) का उद्घाटन और शिलान्यास किया. PM मंगलवार को यानी 21 जून को योग दिवस में हिस्सा लेंगे.

पीएम मोदी ने बेंगलुरू में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज कर्नाटक में पांच नेशनल हाईवे प्रोजेक्ट्स, 7 रेलवे प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास किया गया है. कोंकण रेलवे के शत प्रतिशत बिजलीकरण के महत्वपूर्ण पड़ाव के हम साक्षी बने हैं. पीएम ने कहा, ‘ये सभी प्रोजेक्ट कर्नाटक के युवाओं, मध्यम वर्ग, किसानों, श्रमिकों, उद्यमियों को नई सुविधा देंगे, नए अवसर देंगे.

‘सरकार का दखल न हो तो युवा कुछ भी कर सकते हैं’
उन्होंने कहा, ‘बेंगलुरु ने ये दिखाया है कि सरकार अगर सुविधाएं दे और नागरिक के जीवन में कम से कम दखल दे, तो भारतीय युवा क्या कुछ नहीं कर सकते हैं. बेंगलुरु देश के युवाओं के सपनों का शहर है और इसके पीछे उद्यमशीलता है, इनोवेशन है. पब्लिक के साथ ही प्राइवेट सेक्टर की सही उपयोगिता है.

‘देश के सभी हिस्सों में दी ट्रेन की सुविधा’
बेंगलुरू को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए रेल, रोड, मेट्रो, अंडरपास, फ्लाईओवर हर संभव माध्यमों पर डबल इंजन की सरकार काम कर रही है. बेंगलुरू के जो शुभारंभ इलाके हैं, उनको भी बेहतर कनेक्टिविटी से जोड़ने के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है. भारतीय रेल अब तेज और स्वच्छ भी हो रही है. हमने देश के उन हिस्सों में भी रेल को पहुंचाया है जहां इसके बारे में कभी सोचना भी मुश्किल था.

CBR का किया उद्घाटन
पीएम मोदी ने कहा कि हर देश को स्वास्थ्यसेवा को सर्वाधिक महत्व देना चाहिए. उन्होंने यह बात मस्तिष्क अनुसंधान केंद्र (CBR) का उद्घाटन करने और यहां एक मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल की नींव रखने के बाद कही. मोदी ने भारतीय विज्ञान संस्थान (IISC) परिसर में 280 करोड़ रुपये की लागत से बने मस्तिष्क अनुसंधान केंद्र (CBR) का उद्घाटन किया जिसकी आधारशिला उन्होंने स्वयं रखी थी.

832 बिस्तर वाले अस्पताल की रखी आधारशिला
प्रधानमंत्री ने इस कार्यक्रम के दौरान 832 बिस्तर वाले ‘बागची-पार्थसारथी मल्टीस्पेशियलिटी’ अस्पताल की आधारशिला भी रखी. मोदी ने कहा, ‘जब हर देश को स्वास्थ्यसेवा को सबसे अधिक महत्ता देनी चाहिए, तब ऐसे में ‘बागची-पार्थसारथी मल्टीस्पेशियलिटी’अस्पताल जैसे प्रयासों का बहुत महत्व है.’ उन्होंने कहा, ‘आने वाले समय में यह स्वास्थ्यसेवा क्षमताओं को मजबूत करेगा और क्षेत्र में अग्रणी अनुसंधान को प्रोत्साहित करेगा.

यह भी पढ़ें:

Elon Musk को भारत ने फिर दिया करारा जवाब, Tesla के देश में कार बनाने को लेकर बड़ी खबर