पीएम मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी को दी जन्मदिन की बधाई

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व उप प्रधान मंत्री लाल कृष्ण आडवाणी को जन्मदिन की बधाई दी।

आदरणीय आडवाणी जी को जन्मदिन की बधाई। उनके लंबे और स्वस्थ जीवन के लिए प्रार्थना। लोगों को सशक्त बनाने और हमारे सांस्कृतिक गौरव को बढ़ाने की दिशा में उनके कई प्रयासों के लिए राष्ट्र उनका ऋणी है। उन्हें उनकी विद्वता और समृद्ध बुद्धि के लिए भी व्यापक रूप से सम्मानित किया जाता है,”

पीएम मोदी के अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी पार्टी के वरिष्ठ नेता को बधाई दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, ‘हम सबके प्रेरणास्रोत एवं मार्गदर्शक, श्रद्धेय लालकृष्ण आडवाणी जी को उनके जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।वे भारत के उन सबसे सम्मानित नेताओं में गिने जाते हैं, जिनकी विद्वता, दूरदर्शिता, बौद्धिक क्षमता और राजनय का लोहा सभी मानते हैं।ईश्वर उन्हें स्वस्थ रखे एवं दीर्घायु करे।’

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लाल कृष्ण आडवाणी को जन्मदिन की बधाई देते हुए ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘भाजपा को जन-जन तक पहुंचाने और देश के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले आदरणीय श्री लालकृष्ण आडवाणी जी को जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई।आडवाणी जी पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत हैं। मैं ईश्वर से आपकी दीर्घ आयु और स्वस्थ जीवन की प्रार्थना करता हूं।’

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी लाल कृष्ण आडवाणी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं।उन्होंने अपने ट्वीट में कहा है, ‘अपने सतत संघर्ष से भाजपा की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाकर संगठन को अखिल भारतीय स्वरूप देने में अपना अहम योगदान देने वाले हम सभी के आदरणीय श्रद्धेय श्री लालकृष्ण आडवाणी जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं. आप सदैव स्वस्थ रहें और दीर्घायु हों ऐसी ईश्वर से कामना करता हूं।

आडवाणी आज 94 साल के हो गए।केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी इस अवसर पर शुभकामनाएं दीं।प्रधान ने ट्वीट किया, “हमारे अभिभावक और प्रेरणा, आदरणीय लालकृष्ण आडवाणी जी को उनके जन्मदिन पर हार्दिक बधाई। भाजपा के एक प्रमुख राष्ट्रीय दल बनने के बाद से उनका अमूल्य योगदान रहा है। मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबे जीवन की कामना करता हूं।”

8 नवंबर, 1927 को कराची में जन्मे, आडवाणी 1998 से 2004 तक भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार में गृह मंत्री थे। उन्होंने 2002 से 2004 तक अटल बिहारी वाजपेयी के अधीन उप प्रधान मंत्री के रूप में भी कार्य किया। सह-संस्थापक और भाजपा के एक वरिष्ठ नेता रहे है।

उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के एक स्वयंसेवक के रूप में की। 2015 में, आडवाणी को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया – भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान।