Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / स्वच्छ भारत अभियान के लिए ग्लोबल गोलकीपर का अवार्ड मिलने के बाद क्या बोले पीएम मोदी?

स्वच्छ भारत अभियान के लिए ग्लोबल गोलकीपर का अवार्ड मिलने के बाद क्या बोले पीएम मोदी?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सरकार द्वारा शुरू किए गए स्वच्छ भारत अभियान के लिए ‘ग्लोबल गोलकीपर अवार्ड’ से सम्मानित किया गया है। बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से बुधवार सुबह न्यूयॉर्क में बिल गेट्स द्वारा पीएम मोदी को पुरस्कार प्रदान किया गया। स्वच्छ भारत अभियान, या स्वच्छ भारत मिशन, उन पहले कुछ महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से एक था जिसे पीएम मोदी ने 2014 में केंद्र में अपने पहले कार्यकाल में लॉन्च किया था।

Loading...

पीएम मोदी ने ट्वीट के जरिए यह कहा कि, महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के वर्ष में पुरस्कार मिलना मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से महत्वपूर्ण है। जब 130 करोड़ लोग प्रतिज्ञा लेते हैं, तो किसी भी चुनौती को दूर किया जा सकता है”। प्रधान मंत्री ने कहा कि उन्होंने अपने देशवासियों के साथ सम्मान साझा किया और उन भारतीयों को पुरस्कार समर्पित किया जिन्होंने स्वच्छ भारत अभियान को “लोगों के आंदोलन” में बदल दिया। मोदी ने कहा, “हाल के समय में किसी अन्य देश में इस तरह का कोई अभियान नहीं देखा या सुना गया। यह हमारी सरकार द्वारा शुरू किया गया हो सकता है, लेकिन देश की जनता ने इस अभियान को सफल किया है।” यह कहते हुए कि अभियान की सफलता को संख्याओं में नहीं मापा जा सकता है, प्रधान मंत्री ने कहा कि गरीब लोगों और भारत की महिलाओं को इससे सबसे अधिक फायदा हुआ है।

पीएम मोदी ने कहा, शौचालयों की कमी के कारण कई लड़कियों को स्कूलों से बाहर होना पड़ा। हमारी बेटियां पढ़ाई करना चाहती हैं लेकिन शौचालय न होने की वजह से उन्हें अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ कर घर बैठना पड़ा ”। मोदी ने कहा कि उन्हें बताया गया कि बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने भी रिपोर्ट दी थी कि भारत में ग्रामीण स्वच्छता में सुधार हुआ था, इससे बच्चों में दिल की समस्याओं में कमी आई और महिलाओं में बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) में सुधार भी हुआ। पीएम ने यह भी कहा कि गांधी जी कहते थे कि एक गाँव केवल एक मॉडल बन सकता है जब वह पूरी तरह से स्वच्छ हो। आज हम पूरे देश को एक मॉडल बनाने की ओर अग्रसर हैं। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा की ”इस स्वच्छता अभियान ने न केवल करोड़ों भारतीयों के जीवन में सुधार किया है, बल्कि यूएन द्वारा निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।” आपको बता दें की 2 अक्टूबर, 2014 को अपने पहले कार्यकाल के दौरान मोदी सरकार द्वारा स्वच्छता अभियान चलाया गया था, जिसे आज राष्ट्र स्तर पर अपनाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह लेंगे राजनीति से संन्यास

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *