कृषि कानूनों पर PM का विपक्ष पर पलटवार, कहा- मुझे क्रेडिट मिलने से हैं परेशान

केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में हो रहे किसान प्रदर्शन पर आखिरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुप्पी तोड़ दी हैं। उन्होंने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के किसानों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों के लिए उनकी सरकार की तरफ से किये गए काम गंगाजल और नर्मदा जल की तरह पवित्र हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर पलटवार करते हुए कहा कि राजनीति करने वालों को दिक्कत किये गए वादों को पूरा होने से हैं। ‘

पीएम ने कहा विपक्ष मोदी को मिलने वाले क्रेडिट से परेशान हैं। मोदी ने कहा किसानों की उन मांगों को पूरा किया गया है जिन पर वर्षों से सिर्फ मंथन चल रहा था। किसानों के लिए बनाये गए कानून रातोंरात नहीं आए, पिछले 20-22 साल से देश की हर सरकार ने और सभी संगठनों ने इस पर व्यापक चर्चा की है।

मोदी ने कहा देश के किसान, वैज्ञानिक, अर्थशास्त्री कृषि क्षेत्र में सुधार की मांग करते आ रहे हैं। किसानों को उनसे सवाल पूछना चाहिए कि जो पहले अपने घोषणा पत्र में ये वादे किया करते थे और वोट बटोरते रहे, लेकिन उन वादों को पूरा नहीं किया। उनकी प्राथमिकता में किसान था ही नहीं। आज सभी राजनीतिक दलों के घोषणापत्र, बयान देखे हैं तो आज जो भी सुधार हुए हैं उनसे अलग नहीं है। वे जिन बातों का वादा करते थे उन्हें ही पूरा किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा विपक्ष को तकलीफ इस बात से हैं कि मोदी ने यह काम कैसे कर दिया, मोदी को कैसे क्रेडिट मिल गया। इसलिए मैं हाथ जोड़कर कहता हूं क्रेडिट आप ले लो, लेकिन किसानों को बरगलाना छोड़ दीजिए। मुझे क्रेडिट नहीं चाहिए, मैं केवल किसानों की जिंदगी आसान बनाना चाहता हूं।

यह भी पढ़े: अमित शाह के बंगाल दौरे से पहले TMC में मची भगदड़, इस्तीफों की लगी झड़ी
यह भी पढ़े: बिपिन रावत ने कहा अगला युद्ध स्वदेशी हथियारों से लड़ेंगे, नेपाल को भी दी नसीहत