आलू है सहायक चेहरे के मुंहासे ठीक करने में, जाने कैसे

Potatoes with peel isolated on white background

सामान्यतः आलू का सेवन हम सभी लोग करते है। आलू खाने में तो बहुत टेस्टी होता ही है। साथ ही कई रोगों में भी बहुत लाभदायक होता है। इसमें कैल्शियम, लोहा विटामिन्स भी अत्यधिक मात्रा में होता है। आलू को सब्जी में, रस और पीसकर चेहरे पर लगाकर भी उपयोग किया जा सकता है। आलू शुष्क और गर्म होता है।

आलू का रस त्वचा को निखारने के लिए बहुत उपयोगी है, क्योंकि इसमें पोटेशियम, सल्फर और क्लोरीन की बहुत ही प्रचुर मात्रा होती है।

जले हुए स्थान पर कच्चा आलू पीसकर लगाएं। तेज धूप, लू से त्वचा झुलस गई हो तो कच्चे आलू का रस झुलसी त्वचा पर लगाने से सौंदर्य में पूरी तरह निखार आता है।

एक या दोनों दुर्दे में पथरी होने पर केवल आलू खाते रहने से अत्यधिक लाभ होता है। पथरी के रोगी को केवल आलू खिलाकर और बार बार अधिक पानी पिलाते रहने से गुर्दे की पथरी और रेत बहुत ही आसानी से निकल जाती है।

सर्दी में ठंडी-सूखी हवाओं से हाथों की त्वचा पर झुर्रियां पड़ने पर कच्चे आलू को पीसकर हाथों पर मलें। इससे झुर्रियां ठीक हो जाएंगी।

आलू उबालकर, छीलकर इसके छिलकों को चेहरे पर रगड़ें। इससे मुंहासे पूरी तरह ठीक हो जाते हैं।