बिहार मे होने वाले एसटीईटी-2019 की पुनर्परीक्षा के लिए तैयारियाँ अंतिम चरण मे

प्रदेश मे होने वाले एसटीईटी -2019 की पुनर्परीक्षा आगामी 9 से 21 सितंबर के बीच तीन पालियों में परीक्षा का आयोजन किया जाना है। इस बार की परीक्षा ऑनलाइन मोड मे आयोजित की जायेगी। इस परीक्षा के लिए 12 जिलों में केंद्र बनाए गए हैं। इस दौरान 12, 13, 19 और 20 सितंबर को छोड़कर हर दिन एसटीईटी की परीक्षा होगी। शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए सुबह 8 बजे से पहली पाली दोपहर 2 बजे से दूसरी पाली और शाम 4 बजे से तीसरी पाली की परीक्षा आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा में शामिल होने के लिए 2.47 लाख आवेदन आए हैं और इसी के मुताबिक परीक्षा की तैयारियों को अंतिम रुप दिया जा रहा है।

राज्य मे एसटीईटी परीक्षार्थियों के लिए जो गाइडलाइन जारी की गई है उसके मुताबिक परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे पहले परीक्षा केंद्र मे प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। इसके बाद किसी परीक्षार्थी को अंदर जाने की इजाजत नहीं होगी। परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहन कर प्रवेश करने की इजाजत नहीं होगी उन्हें चप्पल पहनकर ही आना होगा। किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को साथ ले जाने की मनाही होगी। सभी केंद्रों पर परीक्षा के एक दिन पहले ही जैमर लगा दिया जायेगा। सभी केंद्रों पर पर्याप्त संख्या मे पुलिस बलों की तैनाती होगी। सभी परीक्षा केंद्रों को दो जोन मे बाँटा जायेगा, सुपर जोन और जोन। इसी के अनुसार सुपर जोनल और जोनल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति पुलिस बल के साथ की जायेगी। इसको लेकर शिक्षा विभाग के साथ बिहार बोर्ड ने एक दिशा-निर्देश जारी किया है। यह दिशा-निर्देश राज्य के सभी जिलाधिकारी,  डीईओ, परीक्षार्थी और ऑनलाइन परीक्षा केंद्र के लिए जारी किया गया है।

ऑनलाइन परीक्षा की सुविधा वाले जिलों में ही परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं।  प्रदेश भर के 12 जिलों में पटना, भोजपुर, नालंदा, गया, छपरा, वैशाली, मुजफ्फरपुर, औरंगाबाद, दरभंगा, समस्तीपुर, भागलपुर और पूर्णिया में केंद्र बनाये गये हैं।

Loading...