सुरंग के जरिए संसद पहुंचेंगे प्रधानमंत्री और उपराष्ट्रपति, जानें नई संसद के बारे में

देश के नए संसद भवन का निर्माण तेजी से हो रहा हैं। जिसमें प्रधानमंत्री और उपराष्ट्रपति जैसे वीवीआईपी लोगों के मूवमेंट के लिए तीन नई सुरंगे बनाई जाएंगी। ये सुरंगे प्रधानमंत्री आवास, उपराष्ट्रपति भवन और संसद में सांसदों के चैंबर्स से जुड़ी होंगी। जिन्हें बनाने का उद्देश्य वीआईपी मूवमेंट के वक्त आम आवाजाही में होने वाली समस्याओं का समाधान करने का हैं। दरअसल इनकी मदद से वीआईपी कारसेप्स परिसर के अंदर और बाहर जा सकेंगे।

अगर वीआईपी रास्ते अंडरग्राउंड होकर जाएंगे तो आसानी रहेगी। सेंट्रल विस्टा की निर्माण योजना के अनुसार नया पीएम आवास और पीएमओ साउथ ब्लॉक की तरफ आएगा। नए वीपी चैंबर नोर्थ ब्लॉक में होंगे और इसके अलावा सांसदों के चैंबर उस तरफ होंगे जहां ट्रांसपोर्ट और श्रम शक्ति भवन हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक ये सुरंगे सिंगल लेन की रहेंगी क्योंकि इनका इस्तेमाल कुछ विशेष लोगों द्वारा ही किया जाएगा।

सेंट्रल विस्टा के रिडेवलपमेंट का प्राथमिक उद्देश्य संसद परिसर के ऊपर और आसपास के क्षेत्र में सार्वजनिक पहुंच को और आसान बनाना है। प्रोजेक्ट में आने वालों और पर्यटकों का संसद तक पहुंचने को बेहतर बनाने के लिए वीआईपी मूवमेंट्स के लिए हाई सिक्योरिटी की जरूरत है जो आम रास्तों से अलग होगी। उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के आवास, मंत्री और सांसदों के लिए चैंबर संसद भवन के करीब ही हैं।

यह भी पढ़े: WhatsApp Web यूजर्स के लिए आने वाला है वीडियो और वॉयस कॉलिंग फीचर
यह भी पढ़े: भोजपुरी गाना ‘घसाई रंग सगरी’ रिलीज होते ही वायरल, जबरदस्त होली धमाका