सड़कों पर आया कृषि विधेयकों के खिलाफ विरोध, तेजस्वी यादव की ट्रैक्टर रैली

हाल ही में संसद में कृषि से जुड़े तीन विधेयक पास किये गए है। जिनका विपक्ष लगातार विरोध कर रहा है। अब यह विरोध संसद से बाहर निकलकर सड़कों पर जोर पकड़ने लगा है। आज शुक्रवार को कृषि बिलों के खिलाफ किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया है। इस बंद को सफल बनाने के लिए 31 किसान संगठनों ने हाथ मिलाया है। साथ ही इस बंद को कांग्रेस, अकाली दल समेत कई विपक्षी दलों का समर्थन भी मिल रहा है।

भारतीय किसान यूनियन समेत कई संगठनों ने कहा है कि उन्होंने विधेयकों के खिलाफ कुछ किसान संगठनों द्वारा आहूत राष्ट्रव्यापी हड़ताल का समर्थन किया है। संभावना है कि पंजाब, हरियाणा से लेकर यूपी-महाराष्ट्र तक के किसान आज इस भारत बंद में शामिल हो सकते हैं।

सरकार ने अपने फंडदाताओं के ​जरिए अन्नदाताओं को कठपु​तली बनाने का काम किया: तेजस्वी

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार ने अपने फंडदाताओं के ​जरिए अन्नदाताओं को कठपु​तली बनाने का काम किया है। ये सभी किसान विरोधी बिल है। इस सरकार ने ऐसा कोई भी सेक्टर छोड़ने का काम नहीं किया जिसका इन्होंने निजीकरण न किया हो। MSP का कहीं भी विधेयक में जिक्र नहीं है। इन बिलों के विरोध में तेजस्वी यादव ने आज बिहार में किसान नेताओं के संग मिलकर ट्रैक्टर रैली निकाली है।

यह भी पढ़े: UP पंचायत चुनाव में हुंकार भरेगी ‘AAP’ सभी पदों पर उतारेगी अपने उम्मीदवार
यह भी पढ़े: IPL 2020: RCB के कप्तान विराट ने बताया किसकी वजह से हारे KXIP से मैच