राजगढ़ में जमीन को लेकर दो पक्षों के बीच विवाद, पथराव में पुलिस का जवान घायल

एक जमीन विवाद के चलते बुधवार Rajgarh Jameen Vivad : श्याम करीब 7 बजे जिला मुख्यालय के 14 किलोमीटर दूर ग्राम करेड़ी में दो पक्ष के बीच संघर्ष हो गया। जिससे दो लोग गंभीर घायल हो गए। जैसे ही घायल होने की बात गांव में फैली, आक्रोशित भीड़ ने एक विशेष समुदाय के घर और दुकान में आगजनी करते हुए एक मारूति वैन आसपास खड़ी दो बाइक के साथ तोड़फोड़ की। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस और प्रशासन पर भी उग्र भीड़ ने पथराव कर दिया।

पथराव में जवान हुआ घायल —
पुलिस और जवानों पर हुए पथराव में खिलचीपुर एसडीएम पल्लवी वैद्य और थानेदार पुलिस की गाड़ी के शीशे फूट गए। साथ ही पुलिस का एक जवान घायल हो गया। पुलिस ने आक्रोशित भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग भी किया। आसपास के थानों से बड़ी संख्या में पुलिस बल बुलवाकर ग्राम करेड़ी में तैनात कर दिया।

पुलिस ने मोके पर पहुंचकर भारी जन धन का नुकसान होने से बचाया। वहीं पुलिस के द्वारा सतर्कता बरतते हुए राजगढ़ से खुजनेर की ओर आने वाले वाहनों को भी दूसरे रास्ते से निकाले गए। जिले के जिला कलेक्टर हर्ष दीक्षित और पुलिस कप्तान प्रदीप शर्मा अपनी पुलिस बल के साथ निगरानी रखे हुए हैं। पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया।

भोपाल आईजी को पहुंचना पड़ा गांव —
घटना की जानकारी लगते ही भोपाल रेंज आईजी इरशाद वली ग्राम करेड़ी पहुंचे। गुना से SAF और सीहोर से अतिरिक्त सुरक्षा बल राजगढ़ बुलवाया है। जिला पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने बताया कि मोहन वर्मा अपने घर से बाहर निकले थे। दूसरे पक्ष की फैमिली से बातचीत में हॉट—टॉक हो गई। इसी दौरान उसके ऑटो पार्ट्स की दुकान से शॉकप जैसी चीज निकालकर सिर पर मार दी। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ। दोनों घायलों को अस्पताल भेज दिया है। दोनों का उपचार हो रहा है स्थिति सामान्य है। उसी दौरान जो यहां भीड़ थी उन्होंने दो गाड़ी एक वैन और एक दुकान थी। उसको आगजनी कर दी थी। तत्काल ही राजगढ़ और खुजनेर से फायर विकेट आ गई। जिसके बाद आग पर काबू पा लिया। कोई जनहानि नहीं हुई है। उसी दौरान पुलिस प्रशासन का अमला पहुंचा कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव किया उसमें एक पुलिसकर्मी को भी चोट आई है।

पुलिस में बल के प्रयोग के साथ भीड़ को तितर-बतर कर दिया स्थिति कंट्रोल में है। दोनों व्यक्ति का बयान लिया जा रहा है। जो भी जांच में आएगा उस हिसाब से कार्यवाही की जाएगी वहीं जिला कलेक्टर हर्ष विकसित ने बताया कि दो पक्षों के बीच में आपसी विवाद हुआ। इसी वजह से 2 लोगों को चोट आई है। अभी स्थिति कंट्रोल में सामान्य है। यहां पर प्रशासन पुलिस का अमला मौजूद है।

क्या है पूरा मामला
राजगढ़ के करेड़ी में पुराने जमीनी विवाद को लेकर करेड़ी निवासी मोहन वर्मा राजगढ़ जा रहे थे। तभी बाजार में रुके हुए थे। वहीं अपने भाई हुकुमचंद वर्मा से बात कर रहे थे। रोड के सामने दूसरी ओर एक अल्ला वेली का बेटा रोड के दूसरी और खड़ा था। असलम से मोहन वर्मा के बीच में मामूली कहासुनी के बाद विवाद शुरू हो गया जिसके बाद असलम अंदर गया और लोहे की रॉड लाकर मोहन वर्मा के सिर में मार दी। यह देखकर मोहन वर्मा के भाई हुकुम ने आकर बीच-बचाव करने की कोशिश की। तब तो असलम और उसके पिता और भाइयों ने हुकुमचंद वर्मा पर भी हमला कर दिया। जिस पर दोनों के सिर में गंभीर चोट आई गंभीर अवस्था में राजगढ़ जिला अस्पताल में भर्ती है और उसके बाद गुस्सा ही भीड़ ने अल्ला वेली के घर और दुकान के हिस्से में आग लगा दी वही मौके पर पहुंची पुलिस और प्रशासन पर उग्र भीड़ ने पथराव कर दिया पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रण में किया पूरे गांव भारी पुलिस बल तैनात है।

क्या कहना है कलेक्टर राजगढ़ का —
राजगढ़ कलेक्टर हर्ष दीक्षित जिला के अनुसार दो पक्षों के बीच में आपसी विवाद हुआ इसी वजह से 2 लोगों को चोट आई है अभी स्थिति कंट्रोल मैं सामान्य है यहां पर प्रशासन पुलिस का अमला मौजूद है।

यह भी पढ़ें:

उप्र सरकार ने डीजीपी मुकुल गोयल को पद से हटाया