बीपी को कांटोल रखती है मूली, पेट को भी पहुंचाती है फायदा, जानें इसके अन्य लाभ

कई सब्जियां व फल ऐसे होते हैं जो ‘सीजनल’ होते हैं और उन्हें गर्मी व सर्दी के मौसम में ही खाया जाता है।  इन सब्जी में से एक सब्जी मूली की है जो पेट के कई रोगों को दूर करने और लिवर को फायदा पहुंचाती है।  इसमें एंथोस्यानिंस पाया जाता है जो शरीर की अनेको बीमारियों से निजात दिलाता है। पौष्टिक तत्वों से भरपूर मूली में 18 ग्राम कैलरी, 0.1 ग्राम फैट, 4.1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 1.6 ग्राम डाइट्री फाइबर, 2.5 ग्राम शुगर, 0.6 ग्राम प्रोटीन, 36% विटमिन सी, 2% कैल्शियम, 2% आयरन, 4% मैग्नीशियम पाया जाता है।  मूली के सेवन से इम्यूनिटी लेवल भी मजबूत बनता है। आइये जानें इससे मिलने वाले लाभ –

शरीर की गंदगी को खत्म करे

मूली खाने से किडनी के रोग दूर हो जाते हैं।  इसके सेवन से शरीर में मौजूद विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं इसलिए इस सब्जी को नैचरल क्लिंजर के नाम से भी जाना जाता है। फाइबर से भरपूर मूली का सेवन करने से शरीर की आंते हैल्दी रहती हैं।पेट की बीमारी से बचने के लिए मूली के रस में अदरक का रस और नींबू मिक्स करके पीना लाभदायक माना जाता है।

पाचन क्रिया सुचारु बनाए

पेट के रोगों से बचने के लिए मूली खाना अच्छा होता है।  इसके सेवन से पेट हैल्दी रहता है। पेट के भारीपन से निजात पाने के लिए मूली के रस को नमक मिलाकर खाएं। इससे पाचन शक्ति बढ़ती है।

लिवर बनाए हैल्दी

मूली का सेवन करने से लिवर हैल्दी बनता है। रोज़ाना अपने खाने में मूली को शामिल करें। इससे पीलिया रोग दूर हो जाता है और शरीर को फायदा पहुंचता है।

बीपी रखे नियंत्रित

एंटी हाइपरटेंसिव गुण मूली में पाए जाते हैं जिससे उच्च रक्तचाप को कंट्रोल किया जा सकता है। मूली के सेवन से शरीर को पोटैशियम मिलता है जिससे शरीर का ब्लड प्रेशर लेवल कंट्रोल में रहता है।

इन चीज़ों का करें सेवन, सर्दी जुकाम से मिलेंगा आराम