राजस्थान के DGP का बयान, आजकल बच्चे मित्रता करते हैं और आगे निकल जाते हैं

राजस्थान के नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह यादव ने दुष्कर्म के बढ़ते मामलों को लेकर अपनी प्रतिक्रिया रखी हैं। उन्होंने कहा है कि कानूनन 18 साल से कम उम्र के बच्चे आपसी संबंध नहीं बना सकते क्योंकि यह अपराध हैं। लेकिन आजकल बच्चे उत्सुकतावश मित्रता करते हैं और आगे भी निकल जाते हैं। यह नया ट्रेंड है जिसमें आपसी झगड़े को सेट करने के लिए झूठे रेप केस भी दर्ज किये जा रहे है। ऐसे में एक झूठे केस से सही केस भी प्रभावित होते हैं।

डीजीपी ने कहा कि बच्चों को शिक्षित करने पर भी फोकस करना बेहद जरुरी हैं। लड़कियों में आत्मविश्वास पैदा करने के लिए उनकी उनके साथ होने वाली दुर्घटनाओं से बचने के उपाय समझाने होंगे। उन्हें बताना होगा कि वह मदद की जरुरत पड़ने पर किसे एप्रोच कर सकती हैं। इसके अलावा डीजीपी ने कुछ सालों में हिंसक अपराध बढ़ने पर भी चिंता जाहिर की और इसके कई कारण भी गिनाये। डीजीपी ने आजकल की बढ़ती समस्यायों को इसका कारण माना।

उन्होंने कहा कि बेरोजगारी, युवाओं की बढ़ती संख्‍या और इंटरनेट हिंसक अपराध के लिए जिम्‍मेदार हैं। उनके मुताबिक इंटरनेट पर उपलब्‍ध हिंसक और अश्लील सामग्री से बच्‍चे प्रेरित हो रहे हैं। परिवार को बच्चों को समझाना चाहिए कि बच्चों के आचरण को कैसे शुरू से ही नियंत्रण में किया जाए।

यह भी पढ़े: संगरूर में कांग्रेस की ‘खेती बचाओ यात्रा’, कैप्टन बोले-बदलना होगा कृषि कानून
यह भी पढ़े: पाकिस्तान में हिंदू लड़की के साथ बलात्कार, 15 वर्षीय किशोरी की हालत गंभीर