Breaking News
Home / दुनिया / 76 वर्षों में पहली बार उपराष्ट्रपति ने किया ऐसा काम, बन गया इतिहास

76 वर्षों में पहली बार उपराष्ट्रपति ने किया ऐसा काम, बन गया इतिहास

अस्तित्व में आने के 76 वर्षों में पहली बार राज्य सभा ने अंतः संसदीय संवाद को बढ़ावा देने के लिए किसी विदेशी राज्य सभा के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया है।

loading...

एम वेंकैया नायडु ने जब आज यहां रवांडा गणराज्य के सीनेट के आगंतुक अध्यक्ष बर्नाड मकुजा के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया तो ऐसा करने वाले राज्य सभा के वह पहले सभापति बन गए।

सहयोग के 6 विषयों वाले इस एमओयू में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों एवं मित्रता को और आगे बढ़ाने के लिए अंतः संसदीय संवाद, संसदीय कर्मचारियों के क्षमता निर्माण, सम्मेलनों के आयोजन, फोरम, संगोष्ठियों, कर्मचारी संयोजन कार्यक्रमों, कार्यशालाओं एवं विनिमयों, क्षेत्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय बहुस्तरीय संसदीय निकायों में आपसी हितों में सहयोग को बढावा देने की इच्छा जताई गई है।

थिएटर को शिक्षा एवं मनोरंजन का एक प्रमुख रूप बनाएं: उपराष्ट्रपति

नायडु एवं मकुजा ने आपसी हितों के लिए द्विपक्षीय हित के मुद्दों एवं सहयोग के अवसरों पर चर्चा की। उन्होंने 60 प्रतिशत महिला विधान मंडलों के लिए रवांडा के लोगों एवं संसद की सराहना की।

नायडु ने रवांडा को इस वर्ष जनवरी में अफ्रीकी संघ का अध्यक्ष निर्वाचित किए जाने एवं मार्च में अफ्रीकी संघ के एसेम्बली के राजधानी किगाली में सफलतापूर्वक आयोजन, जिसका परिणाम अफ्रीकी महादेश मुक्त व्यापार समझौता पर हस्ताक्षर करने के रूप में सामने आया, के लिए बधाई दी।

रिपोर्ट में खुलासा: पेट्रोल पंपों पर हो रही है ठगी, इस तरह बचें

मकुजा ने देश में जाति संहार नीति, जिसके कारण लगभग 1 मिलियन लोगों की हत्या कर दी गई, के लिए जिम्मेदार लोगों को दंडित करने तथा सामाजिक न्याय कार्यक्रमों के कार्यान्वयन की निगरानी करने में रवांडा की सीनेट की विशिष्ट भूमिका की सराहना की।

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने कह दी ऐसी बात, खुश हो गये मोदी

मकुजा के नेतृत्व में तीन सीनेटर वाला शिष्टमंडल भारत की यात्रा करने वाला विशिष्ट रूप से किसी देश की राज्य सभा से जुड़ा पहला ऐसा शिष्टमंडल है। शिष्टमंडल के सदस्यों में राजनीतिक मामले एवं सुशासन पर सीनेट कमेटी की उप-सभापति गेरट्रुड कजारवाह तथा विदेशी मामलों, सहयोग एवं सुरक्षा पर कमेटी की सदस्य सुश्री थेरेसे कागोआयर विशागारा शामिल हैं। यह शिष्टमंडल 09 से 11 जुलाई, 2018 के दौरान भारत की यात्रा पर है।

राज्य सभा के महासचिव देश दीपक वर्मा एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी चर्चा एवं एमओयू के दौरान उपस्थित रहे।

 

Loading...
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *