बिहार की बेटी के हक के लिए पासवान ने उठाई आवाज तो कुछ ऐसा कहा खेल मंत्री ने

आप सबने त्रेतायुग में श्रवण कुमार की पिता भक्ति को पढा और देखा भी है, परन्तु इसी कार्य को इस कोरोना महामारी के हालात में कर दिखाया है दरभंगा की 15 साल की ज्योति कुमारी ने।

ज्योति कुमारी जो मुल रूप से बिहार की रहने वाली है उसने अपनी साईकिल पर अपने पिता को बिठा लगभग 1200 किलोमीटर की दूरी को अपने साहस और लगन से कमतर साबित कर दिया।

उसके इसी साहस को देखते हुए जब रामविलास पासवान ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए राष्ट्रीय साईक्लिंग फेडरेशन से माँग की तो खेल मंत्री ने इसका जवाब देते हुए कहा कि एक विशेष स्तरीय जाँच के बाद ज्योति को प्रशिक्षु के रूप में शामिल किया जाएगा।

ज्योति के इस साहस और जज्बे को सारे देश के साथ साथ आज समूचा विश्व सलाम कर रहा है।

साथ ही इस जज्बे को सलाम करते हुए विश्व की महाशक्ति कहे जाने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवांका ट्रम्प ने भी ट्विटर पर ट्वीट करते हुए ज्योति के साहस और जज्बे की सराहना की है।

Loading...