रानिल ने भारत के साथ बेहतर संबंधों का किया वादा

श्रीलंका के नवनियुक्त प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने शुक्रवार को कहा कि द्वीप राष्ट्र और भारत के बीच द्विपक्षीय संबंध काफी बेहतर होंगे। विक्रमसिंघे ने प्रधानमंत्री का कार्यभार संभालने के बाद भारत-श्रीलंका के संबंधों पर बोलते हुए कहा,“दोनो देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध और बेहतर होंगे। मैंने अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने की चुनौती ली है और मुझे इसे पूरा करना होगा।”

गौरतलब है कि गुरुवार को यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) के नेता और पांच बार प्रधानमंत्री के रूप में देश की सेवा कर चुके श्री विक्रमसिंधे ने श्रीलंका का नेतृत्व करने के लिए छठी बार शपथ ली, क्योंकि देश अभूतपूर्व आर्थिक और राजनीतिक संकट से जूझ रहा है।

राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे के बड़े भाई महिंदा राजपक्षे ने नौ मई को देश में गहराते आर्थिक संकट के बीच अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वर्ष 1948 में आजादी के बाद से देश में सबसे खराब आर्थिक संकट और हिंसा फैलने के बाद देशव्यापी कर्फ्यू लागू होने के कुछ घंटों बाद ही प्रधानमंत्री का पद खाली हो गया था।

यह भी पढ़े: काबुल की मस्जिद में विस्फोट, 07 की मौत