Breaking News
Home / देश / वोट बैंक के दवाब में कांग्रेस ने नहीं दिया तीन तलाक बिल को समर्थन: रविशंकर प्रसाद

वोट बैंक के दवाब में कांग्रेस ने नहीं दिया तीन तलाक बिल को समर्थन: रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली: लम्बे समय से बहस का मुद्दा बना हुआ तीन तलाक एक बार फिर चुनाव आते आते सबके सामने आने लग गया है| बुधवार को कैबिनेट की बैठक केंद्र सरकार ने इस अध्यादेश को मंजूरी दे दी| केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद विपक्ष ने घेरते हुए कहा की इन्हें महिलाओ के दर्द से कोई मतलब नहीं है और ना ही ये ऐसा कुछ करना चाहते है, केवल चुनावी दिखावा है| विपक्ष की इस बात का जवाब केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिया है|

Loading...

 

ये बोले प्रसाद– रविशंकर प्रसाद ने कहा की “कांग्रेस ने इस बिल में अपना समर्थन नहीं दिया क्योकि उसे वोट बैंक चहिये था और वोट बैंक के दवाब में ऐसे कई सारे जनहित के कार्य है जो कांग्रेस ने नहीं किये है| मुस्लिम बहनों को न्याय दिलाना बहुत आवश्यक है”| प्रसाद ने कहा की “मैंने खुद इसे पास कराने के लिए राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलामनबी आजाद से 5 बार आग्रह किया लेकिन उन्होंने ऊपर से बात करने की बात कहकर इसे टाल दिया| प्रसाद ने आरोप लगाया कि सोनिया गांधी ने एक महिला होने के नाते भी इस ओर कोई कदम नहीं उठाया, उन्होंने वोटबैंक की राजनीति के कारण अमानवीय तीन तलाक को खत्म करने के लिए कोई पहल नहीं की”| उन्होंने कहा की “कांग्रेस केवल और केवल वोट चाहती है और इसीलिए उसे आजतक महिलाओ का दर्द समझ नही आया|

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *