RBI का आदेश, सभी पेमेंट ऑपरेटर्स को जारी करने होंगे क्विक रिस्पॉन्स QR कोड

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने गुरुवार को सभी पेमेंट ऑपरेटर्स के लिए क्विक रिस्पॉन्स क्यूआर कोड को अपनाने का आदेश दिया हैं। आरबीआई ने इसके लिए 31 मार्च 2022 तक की समय-सीमा तय की हैं। इस आदेश के बाद अब पेमेंट ऑपरेटर्स को एक ऐसे क्यूआर कोड सिस्टम को बनाना होगा, जिससे दूसरे पेमेंट ऑपरेटर्स द्वारा भी स्कैन किया जा सके। इस प्रोसेस को लागू करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2022 तय की गई है।

प्रोफेसर दीपक फाटक की अगुवाई वाली एक कमेटी ने अगले दो साल में अंतर-संचालित क्यूआर कोड्स में बदलाव को लेकर कई सुझाव दिए थे। आपकी जानकारी के लिए बता दे वर्तमान में, देश में तीन तरह के क्यूआर कोड चलन में हैं। ये भारत क्यूआर, यूपीआई क्यूआर और प्रोपराइटरी क्यूआर कोड हैं।

बता दे यूपीआई और भारत पहले की तरह ही जारी रहेंगे। केंद्रीय बैंक की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि इंटरऑपरेबल क्यूआर कोड्स के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर्स को पहल करनी होगी। इससे पेमेंट इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत होगा और आम लोगों को सहूलियत होगी।

यह भी पढ़े: परमानेंट बंद होने जा रहा हैं Google Play Music, कुछ देशों में ठप हुई सर्विस
यह भी पढ़े: इन आसान नुस्खों से आप भी बना सकते है फौलादी बॉडी