पढ़ें ये खबर अगर आप मोटापे के शिकार होने से बचना चाहते हैं

वजन घटाने के लिए आमतौर पर कार्बोहाइड्रेट से बचने की सलाह दी जाती है। कार्बोहाइड्रेट संतुलित आहार का एक जरूरी हिस्सा है। यह शरीर और मस्तिष्क को एनर्जी प्रदान करता है। इसमें डायटरी फाइबर होता है जो पाचन में मदद करता है।

कहा जाता है कि मेटाबोलिज्म बढ़ने से कैलोरी तेजी से बर्न होती है और वजन घटता है। इसलिए लोग ग्रीन टी और प्रोटीन से भरपूर फूड का सेवन करते हैं। दरअसल, इन चीजों से मेटाबोलिज्म सिर्फ कुछ ही घंटों तक बढ़ता है। इसके लिए पर्याप्त एनर्जी की जरूरत होती है। ऊर्जा घटने के बाद मेटाबोलिज्म दोबारा धीमा हो जाता है।

माना जाता है कि वजन घटाने के लिए फैट से परहेज करना चाहिए। लेकिन सभी तरह के फैट हानिकारक नहीं होते हैं। मोटापे से बचने के लिए ट्रांस फैट का सेवन नहीं करना चाहिए।

हेल्दी फैट शरीर में विटामिन-ए, डी, के और विटामिन-ई के अवशोषण में मदद करते हैं। साथ ही यह हार्मोन बनाने के लिए भी आवश्यक है। सालमन और मैकरेल मछली, अखरोट, बादाम, चिया और फ्लैक्स सीड में हेल्दी फैट पाया जाता है।

यह भी पढ़ें-

सेहत के लिए ये पांच हॉट ड्रिंक्स बहुत लाभदायक है, जानिए कैसे ?