डिम लाइट्स या लैंप में पढ़ने से शरीर पर पड़ता है बुरा असर, आ सकते हैं कई बीमारियों की चपेट में..

आजकल का ट्रेंड डिम लाइटिंग और लैंप लाइट्स का हो चुका है. लोगबाग दीवारों को हाईलाइट करने, रेस्टोरेंट को रोमांटिक और सूदिंक दिखाने के लिए डिम लाइट्स का इस्तेमाल करने लगे हैं. माना जाता है कि अक्सर डिम लाइट आपो सुकून देती है और आपको कम्फर्ट फील कराती हैं. लेकिन रात में बिस्तर पर जाने के बाद आप लाइट ऑफ करके मोबाइल की स्क्रीन को स्क्रॉल करना शुरू कर देते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक होती है. ये आदत आपको धीरे-धीरे बीमार करना शुरू कर देती है.

डिम लाइट्स में पढ़ने और काम करके के नुकसान

अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल लाइट्स ऑफ करके करते हैं तो यह आपकी आंखों पर सबसे ज्यादा बुरा असर डालती है. एक रिसर्च से पता चला कि जो लोग रात में बेड में लेटकर घंटों मोबाइल पर नजरें गड़ाए रखते हैं उनको अंधेपन का सामना कर पड़ सकता है. वहीं कम रोशनी में पढ़ने और लिखने वाले लोगों को भी आँखों में खुजली और जलन की समस्या पैदा हो सकती है बल्कि दर्द भी होता है. इससे लोगों की दृष्टि भी प्रभावित होती है. कई बार सिर में भी भारीपन होता है. जिसे दूर करने के लिए दवा का सहारा लेना पड़ता है. वहीं झुककर काफी देर तक पढ़ने से पीठ, कंधे और कमर में दर्द होने लगता है.