नियमित सेंधा नमक का सेवन करने से प्राकृतिक नींद आती है

हर इंसान अपनी सेहत के लिए हर आवश्यक काम करता है। हर कोई यह चाहता है कि उसकी सेहत सही रहे वो स्वस्थ रहे, हेल्दी रहे, आदि। हमारे खाने में अगर थोड़ा सा भी नमक कम पड़ जाए तो खाना खाने का विल्कुल मन नहीं करता है। नमक हमारे खाने में स्वाद बनाने का काम करता है। हमारे खाने में नमक कम होने या ज्यादा होने पर हमारी सेहत पर बहुत ही बुरा प्रभाव पड़ता है। आज हम आपको सेंधा नमक के कुछ फायदों के बारे में यहाँ बताने जा रहे है।

जी हां आयुर्वेद में सेंधा नमक को उसके गुणो के लिए सबसे उत्तम माना गया है। सेंधा नमक लाखों साल पुराना वह समुद्री नमक है जिसका निर्माण पृथ्वी की गहराइयों में दबकर होता है। यह नमक स्वास्थ्य की दृष्टि से फायदेमंद और वहीं भोजन का स्वाद बढ़ाने वाला होता है। बहुत ही कम लोगों को इस बारे में जानकारी है कि सेंधा नमक इंसान को कई रोगों से बचाने का कार्य भी करता है।

सेंधा नमक का इस्तेमाल करने से ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहता है। सेंधा नमक की शुद्धता के कारण इसे व्रत के भोजन में भी प्रयोग किया जाता है। इस नमक को लाहौरी नमक भी कहते है। ऐसा इसलिए क्योंकि पुराने समय में इसे लाहौर से पूरे भारत में बेचा जाता था। सेंधा नमक दो रंगों में पाया जाता है लाल रंग और सफेद रंग।

नियमित सेंधा नमक का सेवन करने से प्राकृतिक नींद आती है। यह अनिंद्रा की तकलीफ को दूर करता है।शरीर में शर्करा के स्तर को शरीर के अनुसार ही संतुलित रखता है। पाचन तंत्र को ठीक रखता है। पित्त की पत्थरी व मूत्रपिंड को रोकने में सेंधा नमक और दूसरे नमकों से बेहद उपयोगी है।डायबिटीज के मरीजों को सेंधा नमक अपने भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए। जिससे खाना जल्दी पच जाता है और कब्ज भी दूर हो जाती है। सेंधा नमक को पानी के साथ लेने से कोलेस्ट्रोल कम होता है और हाई ब्लडपे्रशर भी नियंत्रित रहता है। इसलिए यह दिल के दौरे को रोकने में मदद करता है साथ ही अनियमित दिल की धड़़कनों को नियंत्रित करता है।

पानी के साथ सेंधा नमक लेने से रक्तचाप पूरी तरह से नियंत्रित रहता है। सेंधा नमक का सेवन दमा के रोगियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यह नमक वजन को नियंत्रित करता है क्योंकि यह शरीर में पाचक रसों का निर्माण करता है।मांसपेशियों में ऐंठन की समस्या को पूरी तरह दूर करता है। साइनस के दर्द को कम करके राहत भी प्रदान करता है। यह हड्डियों को मजबूती भी प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें:-

जानिए, सरसों के तेल के 6 बड़े फायदे