सिर्फ 7दिन में पेट की चर्बी को दूर भगाएं दालचीनी की एक कप चाय पी कर

आजकल के भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग अकसर घर का खाना नहीं खा पाते हैं। ऐसे में वे बाहर का फास्टफूड खाकर मोटापे और कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। इनमें से मोटापा तो शरीर के लिेये सबसे ज्यादा नुकसानदेह है। क्योंकि मोटापे से ही डायबिटीज, बीपी, हार्ट की बीमारियों की शुरूआत होती है। अगर आप भी अपना मोटापा कम करना चाहते हैं तो चाय पीजिए, और मोटापा कम कीजिये…

दालचीनी की चाय

दालचीनी की सहायता से प्राकृतिक तरीके से वज़न कम किया जा सकता है। यह बिना किसी दुष्परिणाम के आपको दुबला बनाता है। इसके अलावा यह आपके मेटाबॉलिज्‍म की काम करने की दर भी बढ़ता है। जो वज़न कम करने में सहायक होता है। जब वज़न कम करने की बात आती है तो आपको अपने ग्‍लाइसेमिक सूची को ध्यान में रखना चाहिए। दालचीनी की चाय हार्मोन में इन्सुलिन को अचानक बढ़ने से रोकता है। इस चाय में कैलोरीज़ नहीं होती तथा यह और अधिक कैलोरीज़ कम करने में सहायक होता है। यदि एक कप सोड़ा में 126 कैलोरीज़ होती हैं तो दालचीनी की चाय में केवल 2 कैलोरीज़ होती हैं।

सामग्री

1 लीटर पानी
1 दालचीनी की स्टिक या 5 चम्मच दालचीनी का पाऊडर
1/2 चम्मच शहद

सही तरीके से बनाने की विधि

सबसे पहले एक बर्तन में पानी उबाल लें। अब इसमें दालचीनी डालने के बाद मिश्रण को धीमी आंच पर 5 मिनट रखें और चाय को ठंडा होने दें। चाय ठंडी होने पर शहद मिला दें। दिन में तीन बार(सुबह, दोपहर और रात ) को इस चाय का सेवन करें। आप चाहें तो इसे गर्म भी पी सकते है। इससे वजन कम होगा।

फायदे

दालचीनी की चाय में कैलोरीज नहीं होती और यह शरीर में मौजूद कैलोरीज को कम करने में सहायक है। इसके अलावा यह चाय हार्मोन में इन्सुलिन को बढ़ने से रोकती है। एेसे में रोजाना दालचीनी की चाय का सेवन करें।

साइनस के कारण सिरदर्द हो तो एक चौथाई चम्मच दालचीनी को पानी में मिलाकर पेस्टबनाकर सिर में लगाएं।

दालचीनी में शहद या अदरक मिलाकर पीने से अर्थराइटिस का दर्द गायब हो जाता है।

गुलाब जल के साथ दालचीनी मिलाकर 10 मिनट तक लगाएं और फिर धो लें। इससे त्वचा का रुखापन निकल जाएगा। इससे त्वचा मुलायम हो जाती है।

यह भी पढ़ें-

सेहत के लिए पपीते के बीज बहुत फायदेमंद होते है