Breaking News
Home / ट्रेंडिंग / जानिए, चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई के जीवन से जुड़ी खास बातें

जानिए, चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई के जीवन से जुड़ी खास बातें

अपने 13 महीनो के कार्यकाल में सीजीआई गोगोई ने कई अहम मुद्दों की सुनवाई की है, ये बड़े फैसले रहे शामिल

चीफ़ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई का 17 नवम्बर को कार्यकाल समाप्त हो रहा है। आज उनके कार्यकाल का अंतिम दिन है,अपने कुल 13 महीनो के कार्यकाल में रंजन गोगोई ने 47 अहम मुद्दों पर फैसले सुनाये है। रंजन गोगोई ने अपने कार्यकाल में कई ऐसे फैसलों की भी सुनवाई की है जो देश के हित के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण थे।

चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई ने अभी हाल ही में अयोध्या मामले की सुनवाई पूरी की है और एक अहम फैसला सुनाया है साथ ही उन्होने कई और ऐसे मुद्दे जैसे सबरीमाला मंदिर, राफेल डील, चीफ़ जस्टिस के ऑफिस को आरटीआई के दायरे मे लाने जैसे अहम फैसले सुनाये है। इन सभी मामलो मे कई ऐसे मामले भी है जो ऐतिहासिक फैसलों के रूप में हमेशा याद रहेगा।

Loading...

अयोध्या मामला कई वर्षों से चला आ रहा था और यह मामला काफी पुराना मामला था जिसे रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने बेहद सरल तरीके से निपटा दिया। सीजीआई गोगोई आज अंतिम दिन के कार्यकाल में कुछ देर ऑफिस मे बैठे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सीजीआई  गोगोई ने तीस मिनट में 10 मुकद्दमों की नोटिस जारी किया।

मीडिया के कुछ सदस्यों ने इंटरव्यू के लिए भी अपील की लेकिन उन्होने बात करने और इंटरव्यू देने से इंकार कर दिया। खबरों के मुताबिक बार एसोशिएशन के द्वारा आयोजीय फेयरवेल फंकशन में भी सीजीआई गोगोई शामिल नहीं होंगे।

रंजन गोगोई का जन्म 18 नवम्बर 1954 को हुआ था। उन्होने अपने वकालत की शुरुआत 1978 में की थी। उन्होने लंबे समय तक गुवाहाटी कोर्ट में वकालत की। 28 फ़रवरी 2001 को उन्हे गुवाहाटी हाइकोर्ट में परमानेंट जज के तौर पर नियुक्त कर दिया गया। 9 सितंबर  2010  को जस्टिस गोगोई को पंजाब हरियाणा हाइकोर्ट में ट्रान्सफर किया गया।

12 फ़रवरी 2011 को उन्हे मुख्य न्यायधीश के पद पर नियुक्त किया गया। इसके बाद 23 अप्रैल 2012 को उन्हे सूप्रीम कोर्ट के जज के तौर पर नियुक्त किया गया।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *